सिंगरौली स्मार्ट सिटी : निर्माणकार्य में भारी भ्रष्टाचार, कलेक्टर ने दिए जांच के निर्देश, खुद निगम के पूर्व अध्यक्ष ने उठाए थे सवाल

सिंगरौली । नगर निगम सिंगरौली क्षेत्र में स्मार्ट सिटी के तहत तकरीबन 30 करोड़ की लागत से पीसीसी व डामरीकरण सड़क का निर्माण कार्य चल रहा है। जहां निर्माण कार्य की गुणवत्ता को लेकर ननि पूर्व अध्यक्ष चन्द्रप्रताप विश्वकर्मा ने सवाल उठाते हुए अभियंताओं से जांच कराये जाने के लिए कलेक्टर को पत्र लिखा था।

दरअसल ननि क्षेत्र में स्मार्ट सिटी के तहत आरसीसी, पीसीसी एवं डामरीकरण सड़क का निर्माण कार्य संविदाकार के माध्यम से कराया जा रहा है। निर्माण कार्य की गुणवत्ता को लेकर ननि पूर्व अध्यक्ष चन्द्र प्रताप विश्वकर्मा ने संविदाकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कलेक्टर से लिखित शिकायत करते हुए जांच कराये जाने का मांग किया।

श्री विश्वकर्मा का आरोप है कि सड़क निर्माण में गुणवत्ता की अनदेखी की जा रही है। उनके इस शिकायत पत्र पर कलेक्टर ने अभियंताओं की एक जांच टीम गठित कर दिया है।

कलेक्टर के द्वारा उठाये गये इस कदम से स्मार्ट सिटी के ठेकेदार व भोपाल में बैठे अमले में हड़कम्प मच गया है। इस संबंध में नपानि सिंगरौली के अधीक्षण यंत्री व्हीपी उपाध्याय ने बताया कि लगातार स्मार्ट सिटी के निर्माण कार्य को लेकर शिकायतें मिल रही थीं। जहां कलेक्टर के द्वारा जांच के लिए टीम गठित किया गया है।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button