Singrauli News: सिंगरौली में 1 करोड़ 47 लाख के लिए PWD दफ्तर हुआ सील

Singrauli News: 5 अगस्त। उच्चतम न्यायालय जबलपुर में अवमानना प्रकरण दायर है, जिसे वसूली किये जाने हेतु निर्णय पारित किया गया। कलेक्टर द्वारा उच्च न्यायालय जबलपुर द्वारा अवमानना प्रकरणों में पारित आदेश के पालन में तहसीलदार सिंगरौली ने आज गुरूवार की सुबह कार्यपालन यंत्री लोनिवि दफ्तर बैढ़न सीज कर दिया है। दैनिक वेतन भोगी एवं आवेदक जमुना प्रसाद बनाम लोनिवि कार्यपालन यंत्री पर 18 अन्य प्रकरणों में एवार्ड की राशि करीब 1 करोड़ 47 लाख 6 हजार 3 सौ रूपये के भुगतान नहीं किया है। जबकि श्रम न्यायालय सीधी के द्वारा 30 जून 2016 को आदेश पारित हुआ था। कार्यपालन यंत्री लोनिवि के दफ्तर सील करने की कार्रवाई से आज बैढ़न में चर्चाओं का विषय बना रहा। वहीं अधिकारी, कर्मचारी दफ्तर के बाहर चक्कर लगाते रहे।

Singrauli News: सिंगरौली में 1 करोड़ 47 लाख के लिए PWD दफ्तर हुआ सील
Photo By Google

Singrauli News: दरअसल जानकारी के मुताबिक आवेदक जमुना प्रसाद बनाम लोनिवि कार्यपालन यंत्री, देवसर, सिंगरौली एवं 18 अन्य प्रकरणों में न्यायालय पीठासीन अधिकारी श्रम न्यायालय सीधी के द्वारा 9 सितम्बर 2016 को आवेदक के पक्ष में करीब 1 करोड़ 47 लाख 6 हजार 3 सौ रूपये एवार्ड की राशि का भुगतान किये जाने के लिए निर्देशित किया गया था। किन्तु लोक निर्माण विभाग सिंगरौली के जितने भी कार्यपालन यंत्रियों ने कार्यभार संभाला किसी ने श्रम न्यायालय के निर्णय को गंभीरता से नहीं लिया और मामला अवमानना का होने के कारण आवेदक उच्च न्यायालय जबलपुर का शरण लिया।

Singrauli News: जहां उच्च न्यायालय द्वारा लोक निर्माण विभाग कार्यपालन यंत्री के विभागीय चल अचल संपत्ति की कुर्की नीलामी किये जाने के लिए निर्देश दिये गये थे। कलेक्टर ने मामले को गंभीरता से लेते हुए तहसीलदार सिंगरौली को निर्देशित किया एवार्ड की राशि भुगतान के लिए कार्यपालन यंत्री लोनिवि विभाग के चल अचल संपत्ति के कुर्की, नीलामी की कार्रवाई करें। तहसीलदार रमेश कोल, पटवारी राजकिशोर, भोला वर्मा, जामदार नगर, केडी बैस जामदार ग्रामीण, ओमकार सिंह पहुंच कार्यपालन यंत्री लोनिवि के दफ्तर का सीज कर दिया है। तहसीलदार के इस कार्रवाई से विभाग में हड़कम्प मच गया है। वहीं कार्यपालन यंत्री बीएस मरावी ने बताया कि एवार्ड की 15 लाख रूपये जमा कर दी गयी है। तहसीलदार ने कहा कि जब तक संपूर्ण एवार्ड की राशि जमा नहीं कर दी जायेगी तब तक दफ्तर का ताला नहीं खोला जायेगा।

Photo By Google

Singrauli News:

कार्यपालन यंत्री की हो रही किरकिरी
कार्यपालन यंत्री लोनिवि दफ्तर सील होने के बाद विभाग की लापरवाही खुलकर सामने आयी है। आरोप लगाया जा रहा है की तीन साल से बतौर कार्यपालन यंत्री के रूप में बीएस मरावी पदस्थ हैं, किन्तु इन्होंने न्यायालय के निर्णय को संजीदा से नहीं लिया। कोरम पूर्ति के लिए केवल 2 दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों का भुगतान किया जाकर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ने का प्रयास किया है। चर्चा है कि कार्यपालन यंत्री दफ्तर में आने जाने वाले लोगों को काम की बातें कम धार्मिक बातों पर बहस छेड़ते थे। यहां बताते चलें की कार्यपालन यंत्री का रीवा अधीक्षण अभियंता कार्यालय में तबादला हो गया है, किन्तु वे उच्च न्यायालय के शरण में गये। जिसको लेकर अधिकारी भी नाराज हैं।

Singrauli News:

दफ्तर का कामकाज ठप
अचानक कार्यपालन यंत्री का दफ्तर सीज किये जाने के बाद यहां के सहायक यंत्री, उपयंत्री, लिपिक सहित अन्य कर्मचारी बाहर खड़े रहे। बताया जा रहा है की आज पूरे दिन दफ्तर का कामकाज ठप रहा है। तहसीलदार ने विधिवत गेट पर ताला लगाते हुए पंचनामा तैयार कर कार्रवाई का प्रतिवेदन कलेक्टर के यहां प्रस्तुत कर दिया है। कार्यपालन यंत्री के दफ्तर के प्रथम मंजिल में पीआईयू का भी दफ्तर है वहां का भी कामकाज बंद है।

Singrauli News: सिंगरौली में 1 करोड़ 47 लाख के लिए PWD दफ्तर हुआ सील
Photo By Google

Singrauli News:

इनका कहना है
Singrauli News: उच्चतम न्यायालय के आदेश पर आज पीडब्ल्यूडी विभाग के कार्यालय को सीज करने की कार्रवाई की गयी है। विभाग पर दैनिक वेतन भोगी 18 कर्मचारियों के 1 करोड़ 47 लाख रूपये की राशि बकाया है। राशि जमा होने के बाद ही कार्यालय का ताला खुलेगा।
रमेश कोल
तहसीलदार, सिंगरौली

 इसे भी पढ़े-Singrauli News: KBC की हॉट सीट पर पहुंची Deputy Collector; जवाब सुनकर बिग-बी ने जोड़ा हाथ

इनका कहना है
Singrauli News: यह कार्रवाई उच्चतम न्यायालय के आदेश पर कलेक्टर सिंगरौली के निर्देश पर तहसीलदार रमेश कोल के द्वारा की गयी है। विभाग पर दैवेभो कर्मचारियों के मानदेय भुगतान न होने की तय समयसीमा खत्म होने के बाद यह कार्रवाई है। विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया है जल्द ही बकाया राशि जमा करायी जायेगी।
बीएस मरावी कार्यपालन यंत्री, लोनिवि,

Article By Sunil

सतना न्यूज डेस्क

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button