Singrauli News : बड़ा हादसा, लापरवाही में तीन श्रमिको की मौत

केके स्पन कंपनी प्रा.लि.की घोर लापरवाही सामने आयी है। कलेक्टर ने नवभारत से चर्चा के दौरान बताया कि प्रथम दृष्टया में कंपनी की घोर लापरवाही सामने आयी है। क्रियान्वयन एजेंसी ने सुरक्षा मापदण्डों को नजर अंदाज किया है। जिसके चलते एक दु:खद हादसा हुआ है। चाचर निवासी रामनरेश यादव पिता अंजनी यादव की रिपोर्ट पर कोतवाली बैढऩ में केके स्पन कंपनी के साइट इंजीनियर उत्तम कुमार एवं सुपरवाईजर सलाउद्दीन खान सहित अन्य के विरूद्ध गैर इरादतन हत्या भादवि की धारा 304,34 के तहत मामला पंजीबद्ध कर लिया गया है

सिंगरौली 25 सितम्बर। जिला मुख्यालय बैढऩ के कचनी मुख्य मार्ग आरएन टावर के ठीक सामने शुक्रवार को दोपहर एक बड़ा हादसा हुआ। निर्माणाधीन सिवरेज टैंक में कार्य के दौरान एक के बाद एक सहित तीन श्रमिकों की अकाल मौत हो गयी। श्रमिकों के इस अकाल मौत की वजह केके स्पंज कंपनी की घोर लापरवाही मानी जा रही है। कलेक्टर के निर्देश पर कोतवाली बैढऩ में केके स्पन कंपनी के मालिक एवं प्रबंधन के विरूद्ध मामला पंजीबद्ध कर दिया गया है।

दरअसल हुआ यूं कि कचनी मुख्य मार्ग में शुक्रवार की दोपहर करीब 3 बजे निर्माणाधीन सिवरेज टैंक एवं पाइप लाइन का कार्य केके स्पन कंपनी प्राइवेट लिमिटेड के द्वारा कार्य कराया जा रहा था। जहां श्रमिक कन्हैया यादव पिता छोटेलाल यादव उम्र 35 वर्ष निवासी चाचर पहले से घुसा था। जहां श्रमिक कन्हैयालाल ने टैंक के अंदर से आवाज देकर सब्बल की मांग किया। इन्द्रभान सिंह पिता देवराज सिंह उम्र 24 वर्ष निवासी एचएन-10, बुधवारा, जिला भोपाल सब्बल लेकर टैंक के अंदर घुस गया। कुछ देर बाद जब दोनों श्रमिकों के चहल पहल नहीं दिखी तो कार्य स्थल पर मौजूद उक्त कंपनी के सुपरवाईजर ने तीसरे श्रमिक नागेन्द्र रजक पिता रघुनाथ रजक उम्र 30 वर्ष निवासी तेलदह को जबरन टैंक के अंदर जाने के लिए दबाव बनाया। पुलिस के अनुसार तीनों श्रमिक दम घुटने से बेहोश हो गये।

लापरवाही में तीन श्रमिको की मौत
लापरवाही में तीन श्रमिको की मौत

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर कलेक्टर राजीव रंजन मीना, एसपी वीरेन्द्र कुमार सिंह, एडीएम डीपी वर्मन, एसडीएम ऋषि पवार, ननि कार्यपालन यंत्री व्हीपी उपाध्याय, आरके जैन सहित पुलिस अधिकारी, कर्मचारी पहुंच बचाव कार्य में जुट गये। करीब दो घण्टे के अधिक समय तक प्रशासन मशक्कत करता रहा। जब सफलता नहीं मिली तो एनटीपीसी विन्ध्याचल के सीआईएसएफ अग्रिशमन की टीम पहुंच रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। पाइप में फसे तीनों श्रमिकों को बाहर निकालकर तत्काल ट्रामा सेंटर ले जाया गया। जहां चिकित्सकों ने तीनों श्रमिकों को मृत घोषित कर दिया। उधर टैंक व पाइप लाइन में तीन श्रमिकों के फसे होने की खबर अंचल में आग की तरह फैल गयी।

लापरवाही में तीन श्रमिको की मौत
लापरवाही में तीन श्रमिको की मौत

घटना स्थल पर भारी संख्या में आस-पास के लोग जमा हो गये और बैढऩ-बरगवां मुख्य मार्ग करीब 3 घण्टे के अधिक समय तक बाधित हो गया। अधिकांश वाहन नौगढ़ कन्वेयर बेल्ट बीजपुर मार्ग की ओर कनवर्ट कर दिया गया। प्रत्यक्ष दर्शियों के अनुसार तीनों श्रमिकों की मौत टैंक व पाइप लाइन में ही हो गयी थी। बवाल से बचने के लिए प्रशासन ने तरकीब निकाला। फिलहाल केके स्पन कंपनी की लापरवाही से तीन श्रमिकों के मौत होने का जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। पुलिस ने केके स्पन कंपनी के मालिक व प्रबंधन के विरूद्ध कोतवाली बैढऩ में भादवि की धारा 304, 34 के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर लिया है।

घटना स्थल पर मृतक के परिजनों का हंगामा

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक जिस वक्त इस घटना की जानकारी स्थानीय मृतक के परिजनों को हुई। आनन-फानन में लोगबाग विभिन्न माध्यमों से दौड़ लगाते हुए वाहनों में सवार होकर घटना स्थल पर पहुंच गये। इस दौरान पहले सभी लोग ईश्वर से यही प्रार्थना कर रहे थे कि टैंक से सकुशल बाहर आ जायें। रोते-बिलखते श्रमिकों के परिजनों को प्रशासन ढाढ़स बंधाता रहा। लेकिन जब रेस्क्यू कर तीनों श्रमिकों को बाहर निकाला गया तो उस दौरान उनके परिजन एम्बुलेंस वाहन के आगे पीछे खड़े होकर हंगामा शुरू कर दिये। प्रशासन के कड़ी मशक्कत व सूझ-बूझ से घटना स्थल पर हंगामा होने से बच गया। तो वहीं संविदाकार का कोई भी स्टाफ दूर-दूर तक नजर नहीं आ रहा था।

लापरवाही में तीन श्रमिको की मौत
लापरवाही में तीन श्रमिको की मौत

परिजनों को ढाढ़स देते रहे सांसद व विधायक

मृतक श्रमिकों के शवों को जिला चिकित्सालय सह ट्रामा सेंटर में रखा गया है। जहां चाचर व तेलदह गांव के मृतक श्रमिकों के परिजन भी मौजूद हैं। सांसद रीती पाठक व सिंगरौली विधायक रामलल्लू बैस, पूर्व ननि अध्यक्ष चन्द्र प्रताप विश्वकर्मा, जिला मंत्री विनोद चौबे, भाजपा युवा नेता मुकेश तिवारी, लालबाबू बैस, संदीप शुक्ला के साथ-साथ कलेक्टर, एसपी व अन्य जिम्मेदार अधिकारी मृतक के परिजनों से मिलकर ढाढ़स बंधाते रहे। सांसद,विधायक व कलेक्टर ने मृतक के परिजनों को ढाढ़स बंधाते हुए कहा कि यह बड़ी दु:खद घटना है। लापरवाह ठेकेदार को बक्सा नहीं जायेगा और हर संभव आर्थिक मदद दी जायेगी।

लापरवाही में तीन श्रमिको की मौत
लापरवाही में तीन श्रमिको की मौत

साइट इंजीनियर सहित दो के विरूद्ध नामजद अपराध दर्ज

केके स्पन कंपनी प्रा.लि.की घोर लापरवाही सामने आयी है। कलेक्टर ने नवभारत से चर्चा के दौरान बताया कि प्रथम दृष्टया में कंपनी की घोर लापरवाही सामने आयी है। क्रियान्वयन एजेंसी ने सुरक्षा मापदण्डों को नजर अंदाज किया है। जिसके चलते एक दु:खद हादसा हुआ है। चाचर निवासी रामनरेश यादव पिता अंजनी यादव की रिपोर्ट पर कोतवाली बैढऩ में केके स्पन कंपनी के साइट इंजीनियर उत्तम कुमार एवं सुपरवाईजर सलाउद्दीन खान सहित अन्य के विरूद्ध गैर इरादतन हत्या भादवि की धारा 304,34 के तहत मामला पंजीबद्ध कर लिया गया है।

इनका कहना है
केके स्पन कंपनी प्रा.लि. की लापरवाही सामने आयी है। जिसके कारण तीन श्रमिकों की अकाल मौत हुई है। कंपनी के मालिक व प्रबंधन के विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध कर लिया गया है।
वीरेन्द्र कुमार सिंह,एसपी, सिंगरौली

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button