Singrauli News: सचिवों के निलंबन के बाद फटाफट शुरू हुआ है बहाली का खेल

Singrauli News Today: 25 नवम्बर। इसी माह के प्रथम सप्ताह के पूर्व निलंबित सचिवों को अब फटाफट बहाल करने का बड़ा खेल चालू है। सूत्र बता रहे हैं कि 7 नवम्बर के बाद जिला पंचायत के प्रभारी साहब ने निलंबित कई सचिवों पर दरियादिली दिखाते हुए उन्हें बहाली का आदेश पकड़ा दिया है। अब प्रभारी साहब की कार्यप्रणाली पर तरह-तरह की ऊंगलियां उठने लगी हैं। हालांकि इन दिनों वे बीमार चल रहे हैं। जिसके कारण दफ्तर भी नहीं पहुंच पा रहे हैं।

Singrauli News: गौरतलब हो कि जिला पंचायत सिंगरौली अपनी कार्यप्रणाली को लेकर सुर्खियों में हैं। आरोप लगाया जा रहा है कि जिला पंचायत भ्रष्ट्राचार एवं कमीशनखोरी, सुविधा शुल्क वसूलने का अड्डा बना हुआ है। यहां कुछ दलाल सक्रिय हैं। हालांकि जिला पंचायत की नवनिर्वाचित कमेटी से लोगों को काफी उम्मीदें हैं कि भ्रष्ट्राचार, कमीशनखोरी पर जिला पंचायत अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं जिला पंचायत सदस्य शिकंजा जरूर कसेंगे। लेकिन अभी तक यहां चल रहे खेल में अंकुश लगाने में सफल नहीं हो पा रहे हैं।

Singrauli News: सचिवों के निलंबन के बाद फटाफट शुरू हुआ है बहाली का खेल
Photo : Social Media

Singrauli News: सूत्र बता रहे हैं कि जिला पंचायत में पूर्व में पदस्थ सीईओ आईएएस व मौजूदा सीधी कलेक्टर साकेत मालवीय ने कई सचिवों को आयुष्मान कार्ड एवं प्रधानमंत्री आवास योजना के कार्य की प्रगति में रूचि न दिखाने के कारण निलंबित कर दिया था। ऐसे पंचायत सचिवों की संख्या कईयों में है। साथ ही कई सचिवों के वित्तीय प्रभार भी छिन लिये गये थे। साकेत मालवीय का स्थानांतरण होने व सीधी कलेक्टर बनने के बाद जिला पंचायत सिंगरौली सीईओ विहीन है। प्रभार के दम पर कामकाज चल रहा है।

Singrauli News: सचिवों के निलंबन के बाद फटाफट शुरू हुआ है बहाली का खेल
Photo : Social Media

Singrauli News: इसी दौरान निलंबित कई सचिवों को बहाल भी कर दिया गया है। जिसमें कुछ ऐसे सचिव हैं जिनके ऊपर पीएम आवास योजना में घोटाला करने का आरोप भी है। निलंबित सचिवों पर प्रभारी साहब की दरियादिली को लेकर जिला पंचायत के दफ्तर में तरह-तरह की चर्चाएं चलने लगी हैं।

Singrauli News: सचिवों के निलंबन के बाद फटाफट शुरू हुआ है बहाली का खेल
Photo : Social Media

 इसे भी पढ़े-Singrauli News: सीएम हेल्पलाईन के गे्रडिंग में ननि टॉप पर, पुलिस प्रदेश में दूसरे स्थान पर

Singrauli News: फिलहाल जिला पंचायत में मची भर्रेशाही व लाल,काला के खेल को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है। यदि जिला पंचायत की कार्यप्रणाली पर अंकुश नहीं लगाया गया तो पंचायत विभाग से जुड़े ग्रामीण सरकार को कोसने में नहीं छोड़ेंगे और इसका खामियाजा आगामी विधानसभा व लोकसभा चुनाव पर पड़ सकता है।

Article By Sunil

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please off your adblocker and support us