Singrauli गोरबी में सैनिक की बुजुर्ग पत्नी के साथ हुई लूट का खुलासा

सिंगरौली 21 जनवरी। गोरबी बाजार स्थित हनुमान मंदिर के समीप निवासरत एक वृद्ध महिला के घर में घुसकर चाकुओं से हमला करते हुए सोने के जेवरात को लूटकर फरार होने वाले आरोपी व आभूषण के खरीददार को घटना के 72 घण्टे के अंदर सुलझा लेने का दावा किया है। यह घटना 15 जनवरी की शाम करीब 7 बजे घटित हुई थी। इस घटना के बाद जहां बाजार में सनसनी फैल गयी थी। पुलिस इसे चुनौती मानते हुए शातिर अपराधी व खरीददार तक पहुंच गयी और 72 घण्टे के अंदर अंधी लूट का खुलासा करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता हासिल की है।

गौरतलब हो कि 15 जनवरी की शाम करीब 7 बजे गोरबी बाजार हनुमान मंदिर के समीप निवासरत मदन मोहन शर्मा सेवानिवृत्त एनसीएल सैनिक पूजा पाठ करने मंदिर गये हुए थे। बिजली गुल होने का फायदा उठाते हुए लुटेरे ने मदन शर्मा के आवास में घुसकर उनकी 65 वर्षीय पत्नी लालमती शर्मा के ऊपर चाकू से हमला करते हुए शरीर में पहनी सोने के आभूषणों को लूटकर महिला को गंभीर रूप से घायल करते हुए फरार हो गये थे। मंदिर से जब वापस मदन मोहन शर्मा आये तो पत्नी की हालत देखकर भौचक रह गये।

इसकी सूचना गोरबी पुलिस को दी। हालांकि घटना के दिन पुलिस मुख्यमंत्री की ड्यूटी में चली आयी थी। फिर भी गोरबी पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध कर पुलिस अधीक्षक बिरेंद्र कुमार सिंह व एएसपी अनिल सोनकर के निर्देशन एसडीओपी राजीव पाठक के मार्गदर्शन तथा मोरवा निरीक्षक मनीष त्रिपाठी के सतत् निगरानी में गोरबी चौकी प्रभारी सुधाकर सिंह परिहार द्वारा अलग-अलग टीमें बनाकर छानबीन की जाने लगी। पुलिस सूत्र बताते हैं कि मुखबिर की सूचना एवं आसपास लगे

सीसीटीवी कैमरा से जुटे साक्ष्य के आधार पर संदिग्ध आरोपी गगनदीप सिंह उर्फ शैंकी पिता जसवंत सिंह उम्र 21 वर्ष निवासी गोरबी की तलाश की जाने लगी तो पता लगा कि वह घटना के बाद से ही फरार है और बनारस में कहीं छुपा बैठा है। जिसपर एक टीम गठित कर आरोपी को बनारस से धर दबोचा गया। उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी मोरवा निरीक्षक मनीष त्रिपाठी के साथ उपनिरीक्षक सुधाकर सिंह परिहार, सहायक उपनिरीक्षक सतीश दीक्षित, सुरेश सिंह, प्रधान आरक्षक शिवेंद्र सिंह, राजवर्धन सिंह, अजीत सिंह, आरक्षक अनूप सिंह, विष्णु,राजमणि, प्रतीक, प्रकाश, रविदत्त, सरोज, सुबोध सिंह तोमर एवं साइबर सेल से विजय खरे, सोवाल वर्मा, दीपक परस्ते शामिल थे।

आरोपी गगन ने सुभाष को बेचा था सोने की बालियां

पुलिस के अनुसार पुलिस द्वारा सख्ती से की गई पूछताछ में आरोपी गगनदीप सिंह उर्फ शैंकी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। आरोपी की निशानदेही पर लूटी गई बालियों को गोरबी निवासी सुभाष चंद्र उर्फ लाला अग्रहरी के पास से बरामद कर लिया गया है। बताया जाता है की लूट ही बालियों को आरोपी ने किराना व्यवसाई सुभाष चंद्र को बेचा था। इस मामले में आरोपियों के खिलाफ धारा 382 के अतिरिक्त धारा 394, 450, 411 भादवि बढ़ाई गई एवं आरोपियों को 15 दिन जुडिशियल रिमांड हेतु न्यायालय में पेश किया गया। बताते चलें कि मुख्य आरोपी गगनदीप उर्फ सैंकी पूर्व का अपराधी है जो मंदिर में चोरी सहित नशे के कारोबार में जेल जा चुका है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button