सिंगरौली के समुचित विकास के लिए हर तीन महीने में होगी बैठक – केंद्रीय मंत्री फग्गनसिंह

सिंगरौली 10 जनवरी। सिंगरौली जिले के विकास के लिये सभी को मिलकर पहल करनी होगी तथा कभी-कभी औद्योगिक कंपनियों में आकस्मिक रुप से जो दुर्घटनाएं निर्मित हो जाती हैं। ऐसी स्थिति में संबंधित के परिवार को समान रुप से राहत राशि का पैकेज देने की नीति तैयार करने की जरुरत है।
उक्त आशय का निर्देश जिले के प्रवास पर आये हुये भारत सरकार के इस्पात मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते के द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में जिला प्रशासन सहित जनप्रतिनिधियों एवं औद्योगिक कंपनियों के प्रतिनिधियों की बैठक के दौरान दिया गया।

शनिवार को कलेक्ट्रेट सभागार में भारत सरकार के इस्पात मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते के अध्यक्षता में एवं सीधी-सिंगरौली सांसद रीति पाठक के अध्यक्षता तथा सिंगरौली विधायक रामलल्लू बैस, चितरंगी विधायक अमर सिंह, देवसर विधायक सुभाष -रामचरित्र वर्मा, धौहनी विधायक कुंवर सिंह टेकाम, कलेक्टर राजीव रंजन मीना, पुलिस अधीक्षक बीरेन्द्र कुमार सिंह के उपस्थिति में जिले के विकास सहित पुर्नवास नीति के संबंध में जिले में कार्यरत एनसीएल, एनटीपीसी सहित विभिन्न औद्योगिक कंपनियों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक आयोजित की गई।

बैठक में मंत्री भारत सरकार श्री सिंह के द्वारा उपस्थिति प्रतिनिधियों से परिचय प्राप्त कर विस्थापित होने वाले परिवारों के लिये पुर्नवास नीति सहित शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार प्रमुख विन्दुओं पर जानकारी लेने के पश्चात कहा कि आज भी सिंगरौली जिले में जहां इतने बड़े पैमाने पर औद्योगिक कंपनियां संचालित हैं इसके बावजूद भी जिले का समग्र विकास अभी भी उस गति से नही हो पाया। जिसके लिये आवश्यक है सभी को मिलकर जिले के विकास में सभी अपना योगदान दें तथा मेडिकल कालेज सहित केन्द्रीय विद्यालय के संचालन के लिए सभी को आगे आना होगा। वहीं जिले के समग्र विकास के लिये योजना तैयार कर उसे आगे बढ़ाये। उन्होने कहा कि कंपनियों से विस्थापित होने वाले व्यक्तियों के लिये पुर्नवास नीति के तहत संपूर्ण सुविधाएं प्रदान करायी जाय। तथा प्राथमिकता के आधार पर विस्थापित होने वालेा व्यक्तियों को रोजगार मुहैया करावे।

औद्योगिक कंपनियों में प्रथम वरियता जिले के बेरोजगार युवको को दिया जाय। बैठक के पूर्व में कलेक्टर श्री मीना ने मंत्री समेत उपस्थित जनप्रतिनिधियों का स्वागत किया। साथ ही जिले के विकास के संबंध में किये जा रहे कार्यो से अवगत कराया। बैठक मेें सिंगरौली विकास प्राधिकरण के पूर्व अध्यक्ष गिरीश द्विवेदी, बीरेन्द्र मिश्रा, नगर निगम के पूर्व अध्यक्ष सीपी विश्वकर्मा, जिला पंचायत के पूर्व अध्यक्ष राधा सिंह, उपाध्यक्ष डॉ.रविन्द्र सिंह, जिला पंचायत सीईओ साकेत मालवीय, निगमायुक्त आरपी सिंह समेत वरिष्ठ समाज सेवी रामसुमिरन गुप्ता, रामनिवास शाह, पूर्व पार्षद रजनीश पाण्डेय, देवेश पाण्डेय, डीएन शुक्ला सहित औद्योगिक कंपनियों के प्रतिनिधि गण उपस्थित रहे।

प्रदूषण बचाव के लिए मिलकर कार्य करना होगा: सांसद
बैठक के दौरान सासंद श्रीमती पाठक के द्वारा जिले में प्रदूषण के संबंध में अवगत कराते हुये कहा कि हम सबको मिलकर होने वाले प्रदूषण से बचाव के लिए मिलकर कार्य करना होगा। जिसके संबंध में मंत्री श्री सिंह ने कहा कि कोल परिवहन जो किया जा रहा है उसे रेलवे साइडिंग या कन्वेयर आदि से करने की व्यवस्थाएं की जाय। जिससे प्रदूषण से निजात मिल सके। वहीं बैठक में उपस्थित विधायकगणों ने भी अपने-अपने सुझाव एवं विचार व्यक्त किये गये

AAD

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button