युवा कांग्रेस के चुनाव में शहर अध्यक्ष की प्रतिष्ठा दांव पर SINGRAULI NEWS

सिंगरौली 13 दिसम्बर। युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष चुनाव शनिवार को ऑनलाईन के साथ संपन्न हुआ। इस चुनाव में युकां के मतदाताओं में उत्साह नहीं दिखा। करीब 40 फीसदी ही युकां मतदाताओं ने ऑनलाईन से मतदान करते हुए अपने जिलाध्यक्ष का चुनाव किये हैं। हालांकि मतगणना संभवत: 14-15 दिसम्बर को भोपाल में होगी। युकां जिलाध्यक्ष चुनाव के लिए आधा दर्जन उम्मीदवार भाग्य आजमा रहे हैं। जिसमें कांग्रेस शहर अध्यक्ष की प्रतिष्ठा भी दांव पर है। उन्होंने अपने चहेते समर्थकों को जीताने के लिए हर संभव प्रयास किया है।

दरअसल युवा कांग्रेस के प्रदेश संगठनात्मक चुनाव की प्रक्रिया इस बार ऑनलाईन की गयी थी। सिंगरौली में युकां जिलाध्यक्ष के लिए 6 दावेदार मैदान में हैं। जिनमें सूर्य कुमार द्विवेदी, पंकज पाण्डेय, सुनील देव सिंह, ऋचा सिंह, अभिषेक अग्रवाल, ललिता देवी शामिल हैं। शनिवार को ऑनलाईन के माध्यम से युकां जिलाध्यक्ष पद के लिए चुनाव हुआ। जिसमें आंकड़ों के मुताबिक सिंगरौली विधानसभा में 740, देवसर विधानसभा में 138 एवं चितरंगी विधानसभा क्षेत्र में 281 समेत कुल तकरीबन 1159 मतदाताओं ने हिस्सा लिया है। जबकि तीनों विधानसभा में युकां मतदाताओं की संख्या 2800 के पार बतायी जा रही है। औसतन 41 प्रतिशत के आस-पास युकां मतदाताओं ने ऑनलाईन मतदान में हिस्सा लिया है।

युकां मतदाताओं में मतदान के प्रति उत्साह क्यों नहीं दिखा इसके पीछे कई कारण बताये जा रहे हैं। चर्चाओं के अनुसार पार्टी में गुटबाजी चरम पर है। कई खेमे में बटी हुई है तो वहीं कांग्रेस पार्टी के शहर अध्यक्ष व वर्तमान युकांध्यक्ष अपने नजदीकी उम्मीदवारों को जिताने के लिए पूरी ताकत झोक दिया था। असमंजस की स्थिति में फसे करीब आधा से अधिक युकां कार्यकर्ताओं ने ऑनलाईन मतदान में हिस्सा नहीं लिया। फिलहाल सिंगरौली युवा कांग्रेस का अगला जिलाध्यक्ष कौन होगा इस चुनाव में किसका पलड़ा भारी है इसका फैसला अगले सप्ताह में होने की उम्मीद है

गुटबाजी से युक ां कार्यकर्ताओं में दिखी हताशा

सिंगरौली कांग्रेस पार्टी में गुटबाजी चरम पर है। इसे नकारा नहीं जा सकता है और यह बात जगजाहीर हो चुकी है। गुटबाजी से जूझ रही कांग्रेस पार्टी से अब धीरे-धीरे 9 उत्साही कार्यकर्ताओं का भी मनोबल टूट रहा है। इसका जीता-जागता उदाहरण जिला युकांध्यक्ष के चुनाव में दिखा है। जहां करीब 40 फीसदी ही कार्यकर्ताओं ने ऑनलाईन मतदान में हिस्सा लिया है। युकांध्यक्ष के एक प्रत्याशी ने नाम न उजागर करने की शर्त पर कहा कि गुटबाजी के चलते कार्यकर्ताओं में हताशा व निराशा दिखने लगी है। चुनाव में इस तरह लॉबिंग हो रही थी जो कल्पना से परे है। जिन दिग्गज नेताओं पर उम्मीद थी वही लोग दगा दिये हैं। आने वाले वक्त में हम सब अपनी क्षमता दिखायेंगे

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button