महदेईया में बेलगाम ट्रेलर ने बाइक सवार युवक को कुचला, गुस्साये ग्रामीणों ने जमकर किया हंगामा

सिंगरौली 25 अगस्त। गोरबी के समीपस्थ महदेईया में मंगलवार की सुबह फिर से एक कोल वाहन ट्रेलर चालक ने मोटर साइकिल सवार युवक को कुचल दिया। जहां युवक की घटना स्थल पर ही मौत हो गयी। खून से लथपथ युवक को देख गुस्साये मृतक के परिजनों व ग्रामीणों ने चकाजाम कर दिया। करीब छ: घण्टे तक बरगवां-गोरबी मार्ग पूरी तरह से अवरूद्ध रहा। वहीं घटना स्थल पर एएसपी, एसडीओपी मोरवा, एसडीएम चितरंगी पहुंचे हुए थे।

पुलिस सूत्रो से मिली जानकारी के मुताबिक मोरवा थाना क्षेत्र के गोरबी चौकी अंतर्गत महदईया में ट्रेलर चालक ने मोटरसाइकिल सवार राजेन्द्र शाह पिता रामकेवल शाह निवासी रमपुरवा थाना बरगवां जो कि किसी काम से गोरबी की तरफ जा रहा था तभी बेलगाम तेज रफ्तार की ट्रेलर एमपी 66 एच 1807 ने मोटरसाइकिल सवार को ठोकर मार दिया जिससे बाइक सवार की घटना स्थल पर मौत हो गई। घटना के बाद जनता में भारी आक्रोश दिखाई दिया। वही पुलिस प्रशासन मौके पर पहुंच जनता को समझाइस देते हुए हालात पर काबू बनाये रखी।

करीब छ: घण्टे तक चकाजाम चला। इस दौरान मृतक के परिजनों को किसी प्राइवेट कंपनी में एक नौकरी, संबल योजना के तहत 4 लाख मुआवजा व गोरबी डम्प क्षेत्र से पुलिस चौकी के पीछे से होकर ओवरब्रिज के पास तक बायपास सड़क मार्ग बनाने के लिए एनसीएल के एजीएम आश्वासन दिये तब कहीं जाकर लोगों का गुस्सा ठण्डा पड़ा। इधर जिला पंचायत सदस्य व सहकारिता समिति के सभापति राजेश सिंह राजू ग्रामीणों के समर्थन में खुलकर सामने आ गये और आम पेंड़ के नीचे दर्जनों ग्रामीणों के साथ धरने पर बैठ गये। जहां एएसपी से तूतू-मैमै शुरू हो गया और यह तूतू-मैंमै कई मिनटों तक चला।

पुलिस अधिकारियों का कहना था कि जिले में धारा 144 लगी है। धरना प्रदर्शन प्रतिबंधित है। इसी बात को लेकर दोनों में बहस शुरू हो गयी। मामले को शांत कराने के लिए उक्त अधिकारियों के अलावा चितरंगी तहसीलदार कुनाल राउत के साथ-साथ नवानगर टीआई यूपी सिंह, मोरवा मनीष त्रिपाठी, बरगवां टीआई नागेन्द्र प्रताप सिंह व चौकी प्रभारी सुधाकर सिंह, प्रआर संतोष सिंह, अरविन्द चतुर्वेदी, आर.संजय सिंह सहित भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद था।

फिर सिंगरौली की सड़क हुई लाल
जिले में आये दिन हो रही बेगुनाहों के मौत की जिम्मेदार आखिर कौन है। कब तक बेगुनाहों को सिंगरौली की खूनी सड़को पर ट्रेलर हाइवा से कीड़े-े मकोड़े की तरफ रौंदा जायेगा। बताया जाता है कि यातायात पुलिस अपने माजन मोड़ कार्यालय के बाहर रोजना चेकिंग लगाकर आम जनता और छोटे वाहन चालकों को परेशान कर वसूली तो करते हैं लेकिन अगर बात बेलगाम तेज रफ्तार में चलने वाले ट्रेलर,हाइवा और ट्रक की चेकिंग करने का हो तो यातायात पुलिस के पसीने छूटने लगते है। वही सूत्र कहते है कि बड़ी गाडिय़ों का महीने का चढ़ोत्तरी बंधा रहता है जिसके कारण यातायात पुलिस बेगुनाहों को सड़क पर अपने टायरों के नीचे कुचलने वाले ट्रेलर,हाइवा और ट्रक पर कार्यवाही नही करना चाहती।

यातायात पुलिस बेजा वसूली करने में मस्त
बतादें कि इन दिनो यातायात पुलिस अपने मनमानी रवैये के चलते सूर्खियों में आ गई है। अभी हाल ही में माजन मोड़ चौराहे पर यातायात पुलिस की वसूली का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ था जिसके बाद वसूली करने वाले यातायात पुलिस के उस जवान को पुलिस अधीक्षक के द्वारा तत्काल लाइन अटैच कर दिया गया लेकिन अब भी यातायात पुलिस पर सिर्फ एक ही सवाल खड़ा होता है कि ट्रेलर,हाइवा और ट्रक जैसे बड़े गाडिय़ों के प्रति यातायात पुलिस की सहानुभूति का कारण क्या है,यह समझ से परे लग रहा

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button