नेहरू शताब्दी चिकित्सालय के डाक्टर पर लगा गाली-गलौज व हाथ-पैर तोड़ने की धमकी का आरोप

सिंगरौली। जयंत चौकी क्षेत्र में स्थित एनसीएल का नेहरू शताब्दी चिकित्सालय हमेशा विवादों में घिरा रहता है। कभी मेडिकल स्टाफ की मनमानी तो कभी डाक्टर साहब का निर्देश की मुख्य दुकान से दवाई खरीदे और फला पैथॉलाजी से चेकअप कराए। ताजा प्रकरण नेहरू शताब्दी चिकित्सालय के डाक्टर साहब से जुड़ा हुआ है, ईलाज कराने आए मरीज को अपशब्द बोलने व मारने-पीटने की धमकी देने का आरोप डाक्टर संतोष मिश्रा पर लगा है। जिसकी शिकायत जयंत चौकी में मरीज द्वारा कराई गई है। यह कोई पहला मामला नहीं है डॉक्टर संतोष के खिलाफ पूर्व में भी ऐसे कृत्य को लेकर पुलिस के समक्ष शिकायत की जा चुकी है । आपको बताते चलें कि नेहरू चिकित्सालय में पदस्थ डॉक्टर संतोष मिश्रा आए दिन विवादों में रहते हैं संबंधित मामले में एनसीएल प्रबंधन कार्यवाही के नाम पर लीपापोती करते नजर आ रहा है ।

क्या है मामला

सिंगरौली जिले से लगे हुए उत्तर प्रदेश के सोनभद्र सीमा पर बसी जनता के लिए ईलाज का एकमात्र उम्मीद नेहरू शताब्दी चिकित्सालय हैं परंतु उक्त अस्पताल में डॉक्टर संतोष मिश्रा इस कदर रंगबाज हुए कि ईलाज कराने आई महिला से गाली-गलौज पर उतारू हो गए। मामला यह है कि शक्तिनगर ज्वालामुखी कॉलोनी निवासी पीड़ित परिवार मंगलवार को इलाज हेतु नेहरू शताब्दी चिकित्सालय गया हुआ था जहां डॉक्टर संतोष मिश्रा से कोई बात पूछने पर डॉक्टर संतोष मिश्रा का पारा इतना गरम हुआ कि मारपीट और गाली गलौज पर उतारू हो गए।

ये भी पढ़े : MP में जिला गोरक्षा प्रमुख की गोली मारकर हत्या, VHP समर्थकों में आक्रोश

डॉक्टर के द्वारा बदतमीजी करने का यह कोई पहला मामला नहीं है

डॉक्टर संतोष मिश्रा के दबंगई का आलम यह रहा कि मरीज के साथ आई महिला के साथ भी बदतमीजी पर उतारू हो गए और मरीज के बेटे संदीप कुमार राय को डॉक्टर मिश्रा ने हाथ पैर तोड़ने की भी धमकी दे डाली। पीड़ित परिवार द्वारा जयंत चौकी में लिखित शिकायत दर्ज कराई गई है। पुलिस द्वारा जांच कर उचित कार्यवाही करने की बात पर पीड़ित परिवार न्याय की उम्मीद में अपने घर वापस आ गया। इसके पूर्व में हुई घटना का अगर जिक्र करें तो डॉक्टर साहब के द्वारा पूर्व में भी मरीज के परिजनों के साथ में अभद्र व्यवहार गाली गलौज व मारपीट करने का प्रयास किया जा चुका है जिसकी भी शिकायत जयंत चौकी में की जा चुकी है
डाक्टर साहब के बिगड़े बोल की चर्चा चट्टी-चौराहों पर जोरो पर है और हर आम खास आदमी यह बात कर रहा है कि भगवान के रूप डाक्टर भी ऐसी भाषा बोलेंगे तो गरीब जनता ईलाज के लिए कौन सा दरवाजा खट-खटाएगी। एनसीएल ने नेहरू शताब्दी चिकित्सालय का निर्माण क्षेत्र में सरल सुलभ उचित ईलाज के लिए कराया था किंतु ऐसे स्टाफ के व्यवहार से एनसीएल की साख को भी बट्टा लग रहा है।

डॉक्टर की अभद्रता का शिकार पत्रकार भी

जिस तरह से घटनाएं सामने आई हैं गौर करने वाली बात है कि डॉक्टर संतोष मिश्रा के द्वारा अभद्र व्यवहार आमजन के अलावा पत्रकार भी सुरक्षित नहीं नेहरू अस्पताल के कवरेज करने गए पत्रकार के साथ भी डॉक्टर साहब ने अभद्र व्यवहार किया था पार्किंग में हुई इस घटना को वहां पर खड़े सैकड़ों लोगों ने देखा था की एक डॉक्टर किस तरह से अपनी सीमा को पार करते हुए गाली गलोज व अभद्र व्यवहार किया

विगत दिन एनसीएल कर्मचारी के साथ भी हो चुकी है मारपीट

विगत दिवस की अगर बात करें तो नेहरू अस्पताल परिसर में फिल्मी स्टाइल में एनसीएल के अमलोरी परियोजना के कर्मचारी के साथ में फिल्मी स्टाइल में मारपीट हो चुकी है जिसमें अस्पताल परिसर में तैनात प्राइवेट सुरक्षा कर्मी ने एनसीएल कर्मी के साथ मारपीट की है जिस की भी जांच जयंत पुलिस के द्वारा की जा रही है ।

ये भी पढ़े :

बाघ कैसे करता है शिकार, देखिये LIVE

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button