किसानों और ग्रामीणों को बड़ी सौगात ना फसलें खराब होगी और ना घर टूटेंगे

सीधी 6 अक्टूबर |  सीधी के सजंय टाईगर रिजर्व में छत्तीसगढ़ से आने जाने बाली हाथीयों की खबर अब एक सूचना यंत्र देगा,यहां प्रदेश का पहला ऐसे त्वरित सूचना यंत्र लगया गया है जो सेंशर को मादत से हाथियों की आने जाने पर सायरन की आवाज निकालने लगेगा,सायरन की आवाज से बीट ऑफिस गांव में चिन्हित स्थान अब आलर्ट हो सकेंगे,इतना ही नही संबंधित अधिकारी के मोबाइल पर फोन घंटी भी जाएगी,टाईगर रिजर्व के अधिकारी इसका श्रेय बरिष्ट कार्यकाल भोपाल को दे रहे है,बतातते है कि सब बरिष्ट अधिकारियों की पहल का नतीजा है।

संजय टाइगर रिजर्व क्षेत्र के पोड़ी रेंज में छत्तीसगढ़ बॉर्डर पार कर हाथियों का झुंड कई वर्षों से आ जा रहा था,इस क्षेत्र में एक वर्ष रहने के बाद सात हाथियों का झुंड कुछ दिन पहले ही छत्तीसगढ़ की ओर चले गए हैं,लेकिन बिभागी अमलें को जंगल मे हाथीयों की आने जाने की भनक तबतक नही लगती थी जबतक हाथी जंगल या ग्रामीण इलाकों में उत्पात नही मचाती थी,बिभाग इन सब मुसीबतों को ध्यान में रखते हुये नावचार किया है,जो इस पार्क में प्रदेश का पहला त्वरित सूचना यंत्र पोड़ी क्षेत्र के चार अलग-अलग स्थानों पर लगया गया है जहां से हाथीयों के आने जाने पर यह यंत्र सेंशर की मदत से उसके दो सौ मीटर दूर तक हाथीयों के गुजरने पर सायरन को आवाज निकालेगा इतना ही नही सम्बंधित वन कर्मी अधिकारी की मोबाइल फोन की घँटी भी बजने लगेंगी,जिससे वन कर्मी और अधिकारियों को हाथीयों की आने जाने की खबर मिल सकेंगे

यह खाश तौर पर कोलकाता की सेज फाउंडेशन एक एनजीओ ने तैयार कर इसका प्रयोग सीधी संजय टाइगर रिजर्व कर रही है,बतया गया है कि इस ख़ास तरह का यंत्र में सेंसर लगा हुआ है,जिसकी क्षमता शुरुआत में 100 मीटर एरिया होगा, इसके बाद ढाई सौ मीटर की एरिया में बढ़ाया जाएगा,यह यंत्र जमीन से आठ फीट ऊंचाई पर लगाया गया है ताकि हाथी के ऊंचाई को कवर कर सके,जैसे ही इसके आप पास से हाथियों का झुंड गुजरेगा लगाए गए यंत्र से सायरन की आवाज निकलेगी इस सायरन को बीट ऑफिस, गांव में चिन्हित स्थान और संबंधित अधिकारी के मोबाइल पर फोन घंटी जाएगी,जिससे यह पता हो जाएगा कि हाथियों का झुंड जंगल में प्रवेश कर गया है।

बहरहाल संजय टाइगर रिजर्व छत्तीसगढ़ की सीमा से लगे होने पर अक्सर इस पार्क में छत्तीसगढ़ से हाथियों का आना जाना लगा रहता है जिससे कई दफा तो हाथियों की वजह से वन कर्मी सहित आम जनों की मौत हो चुकी है,अब हाथियों पर निगरानी करने के लिए प्रदेश का पहला त्वरित सूचना यंत्र लगाया गया है,जो ठीक तरह से इस यंत्र का प्रयोग इस पार्क में सफल होता है तो बिभाग प्रदेश के अन्य पार्कों में भी इस यंत्र का प्रयोग करगें।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button