एनसीएल ने COVID-19 से निपटने को किया 200 आइसोलेसन बेड की व्यवस्था

नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) ने COVID-19 के अप्रसार एवं किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए 200 आइसोलेसन बेड तैयार किया हैं । आइसोलेसन बेड की व्यवस्था मुख्यतया कंपनी के नेहरू शताब्दी चिकित्सालय, अमलोरी कल्याण मंडप,जयंत कल्याण मंडप और जयंत एथलेटिक एकेडमी में किए गए हैं ।

कोविड-19 जनित वैश्विक महामारी से लड़ने के लिए कंपनी के लगभग 15,000 कर्मचारी अपने एक दिन के वेतन को PM CARES फंड में दें रहें हैं । इस महामारी से लड़ने के लिए कंपनी की सभी परियोजनाएं अपने-अपने स्तर पर आस-पास के ग्रामीणों के लिए निरंतर प्रयास कर रहीं हैं। पारियोजनाओं द्वारा ग़रीब, असहाय एवं जरूरतमंद लोगों के लिए जिला प्रशासन के सहयोग से राशन, भोजन की व्यवस्था, गाँव में फोग्गिंग करवाना, मास्क एवं सेनीटाइजसन के इंतजाम आदि किए जा रहे हैं ।

कोरोना वायरस (COVID 19) के आलोक में एनसीएल ने जारी किया मेमोरांडम :-

एनसीएल मुख्यालय ने कोरोना वायरस COVID 19 के अप्रसार एवं रोकथाम के आलोक में कार्यालयीन कार्य के निष्पादन के लिए पूर्व में जारी दिशा-निर्देश को 14 अप्रैल 2020 तक बढ़ा दिया हैl एनसीएल प्रबंधन ने मंगलवार को आफिस मेमोरेंडम जारी कर रोस्टर सिस्टम ,फ़्लेक़्सी वर्किंग आवर एवं वर्क फ़्राम होम के द्वारा ही 14 अप्रैल 2020 तक आफिसियल कार्य निष्पादित करते रहने का निर्देश जारी किया है ।

साथ ही इस विपरीत समय में देश को निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए एनसीएल की खदानों में सुरक्षा के सभी मानदंडों का ख्याल रख कोयला उत्पादन किया जा रहा हैं । कार्यस्थल पर सोशल डिस्टेंसिंग बना कर कार्य किया जा रहा हैं एवं मशीनों को सेनीटाइज़ किया जा रहा हैं।

ग़ौरतलब है कि इस आपात स्थिति में सभी सावधानीओं के साथ काम करते हुए एवं कर्मियों के स्वास्थ व सुरक्षा को ध्यान में रखते हुये एनसीएल राष्ट्र हित में कोयला खनन कर रही है l साथ ही 4 दिन पहले ही अपना कोयला उत्पादन व प्रेषण के वार्षिक लक्ष्य को पूरा कर लिया था।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button