इंद्रलोक से आई चिठ्ठी, होगी बारिश में कटौती, अधिकारी हैरान

कोरोना संकटकाल में एक तरफ जहां अधिकारी से लेकर कर्मचारी तक और नेता से लेकर के अभिनेता तक परेशान हैं, वहीं अब इस परेशानी का असर इंद्र देवता पर भी होने लगा है जी हां बात पढ़ने और सुनने में भले ही अजीब लगे पर सोलह आने सच है, मामला मध्य प्रदेश के सीधी से जुड़ा हुआ है जहां इंद्र देवता ने सीधी के नगर पालिका अधिकारी को पत्र लिखकर कोरोना महामारी के संकट के इस दौर में 50% बारिश की कटौती करने का फरमान सुनाया है

स्वर्ग से जारी पत्र की सीसी कॉपी बाकायदा भगवान शंकर, भगवान विष्णु और भगवान ब्रह्मा को भी भेजी गई है चिट्ठी के पहुंचाने का जिम्मा आदि ऋषि नारद को सौंपा गया है, चिट्ठी कुछ इस तरह से लिखी हुई है जिसे पढ़कर आप अंदाजा लगाइए कि मामला कितना संजीदा है

कार्यालय इंद्र देव मंडल

क्रमांक । बारिश कटौती बाबत।

प्रति ,

समस्त पृथ्वी वासी भूलोक मंडल

विषय, कोरोना महामारी को दृष्टिगत रखते हुए बारिश में 50% की कटौती करने विषयक

विषय अंतर्गत लेख है कि इस वर्ष कोरोना महामारी के कारण मार्च 2020 से समस्त पृथ्वी लोक में लॉक डाउन होने के कारण बादलों द्वारा पानी का संग्रहण ठीक ढंग से नहीं किया गया है lock-down खुलने के पश्चात सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक 50% कर्मचारियों से ही काम लिया जाना है ऐसी स्थिति में बादलों का स्टाफ भी 50% कम रहा है इस कारण बादलों में पानी का संग्रहण कम होने के कारण इस वर्ष बारिश में 50% की कटौती की जाती है इसका अर्थ यह नहीं है कि उक्त कटौती हमेशा के लिए होगी बल्कि जब भी पानी की संग्रहण की स्थिति ठीक हो जाएगी हालात सामान्य हो जाएंगे

पानी का एरियर कर दिया गया है आशा करता हूं कि इस निर्णय में आप सभी पृथ्वी वासी सहयोग करेंगे

इंद्रदेव स्वर्ग लोक

यह रही वह चिट्ठी जिसके के आने के बाद अधिकारी पशोपेश की स्थिति में हैं नगर पालिका के अधिकारियों को मिली इस चिट्ठी के बाद तरह-तरह की चर्चाएं शुरू हो गई हैं । हालांकि इस मामले में अब नगर पालिका के अधिकारी समझ रहे हैं कि यह किसी की शरारत है पर यह हंसी शरारत गुदगुदाने के लिए पर्याप्त है

आप भी पढ़िए इंद्रदेव की यह चिट्ठी

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button