Bjp कार्यसमिति की बैठक में बवाल, सतना में हार की जिम्मेदारी किसकी ?

Satna News In Hindi: सतना पिछले दिनों मैहर मैं संपन्न हुई भाजपा (Bjp) जिला कार्यसमिति की बैठक हंगामेदार रही। इस बैठक में पार्टी के जमीनी कार्यकर्ताओं की उपेक्षा और रैगांव-चित्रकूट सहित शहर के वार्ड क्रमांक 10 एवं 26में हुए उपचुनाव में भाजपा की हार पर सदस्यों ने कई सवाल दागे। इस मामले में पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष योगेश ताम्रकार एवं जिलाध्यक्ष नरेंद्र त्रिपाठी निशाने पर रहे।

पार्टी सूत्रों के अनुसार प्रदेश सह – संगठन मंत्री की मौजूदगी में उचेहरा मंडल के अध्यक्ष सोमचंद ताम्रकार ने कहा कि पूर्व में भाजपा (Bjp) की यह परंपरा रही है कि पराजय की समीक्षा के बाद किसी न किसी को जिम्मेदारी लेनी पड़ती थी, किंतु यहां जवाबदारी लेने को कोई तैयार नहीं है। जबकि बुनियादी कार्यकर्ताओं की अनदेखी के कारण पार्टी की बुनियाद खिसक रही है।

सोमचंद्र ने योगेश और नरेंद्र को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि प्रदेश नेतृत्व को गलत जानकारी देकर टिकट वितरण में उन्होंने अहम भूमिका निभाई और उसका हश्र क्या हुआ, वह जगजाहिर है। सूत्र तो यहां तक बताते हैं की सोमचंद्र ताम्रकार ने चुनौती देते हुए कहा कि पद में रहकर हार की जिम्मेदारी लेने वाला ही पार्टी का सच्चा सेवक होता है और सेवक है तो संगठन की बैठक में सच्चाई स्वीकार करें। इस मौके पर मैहर के मंडल अध्यक्ष कैलाश शर्मा के साथ प्रदेश कार्यसमिति सदस्य कैलाश गौतम ने भी सोमचंद्र की बातों का समर्थन किया।

Bjp के 14 मंडल अध्यक्ष गैरहाजिर, 4 को सूचना नहीं

बैठक में 14 मंडल अध्यक्षों का गैरहाजिर रहना चर्चा का विषय रहा। Bjp से जुड़े सूत्र बताते हैं कि जिला स्तर पर प्रदेश उपाध्यक्ष और जिलाध्यक्ष के हिटलर शाही के प्रति नाराजगी का अनेक मंडल अध्यक्षों ने अपनी उपस्थिति ना दर्ज कराकर यह संकेत दिया है कि वे संगठन की मौजूदा कार्यप्रणाली से नाराज है वही संगठन द्वारा चार मंडल अध्यक्षों को बैठक की सूचना ही नहीं दी गई।

जानकार सूत्र बताते हैं कि सतना Bjp के पूर्वी मंडल के अध्यक्ष को महज इसलिए नहीं बुलाया गया क्योंकि उनका योगेश ताम्रकार से आपसी विवाद है जबकि मैहर के तीन मंडल अध्यक्षों को राजनीतिक कारणों की वजह से सूचना नहीं दी गई जब इस बात की जानकारी प्रदेश के सहसंगठन मंत्री हितानंद को दी गई तब उन्होंने नाराजगी जताते हुए इसे गलत ठहराया और आने वाले समय में इस तरह के मामलों में गड़बड़ ना करने की हिदायत दी उन्होंने यहां तक कहा कि संगठन किसी के घर का नहीं है ।

यह भी पढ़ें: Satna News : सतना जिले के चित्रकूट में एक और तेंदुआ की मौत

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button