Satna Today News: सतना की बेटी ने बढ़ाया विंध्य का गौरव- आर्मी के जीएजी में निकिता बनीं लेफ्टिनेंट, सेना में परिवार की तीसरी पीढ़ी

Satna Today News: सतना की एक और बेटी ने विंध्य को गौरवांवित किया है। सतना की लाडली निकिता ने आर्मी में जज एडवोकेट जनरल (जीएजी) में लेफ्टिनेंट पद पर कमीशन प्राप्त किया है। निकिता अपने परिवार की तीसरी पीढ़ी की सदस्य है, जिन्होंने देश सेवा के लिए भारतीय सेना को चुना है। उनके पिता कर्नल तथा दादा ब्रिगेडियर रहे हैं।

Satna Today News: सतना शहर के नजदीकी ग्राम हाटी के मूल निवासी रिटायर्ड ब्रिगेडियर कृष्णपाल सिंह की पोती तथा सेवानिवृत्त कर्नल विजय पाल सिंह के परिवार की तीसरी पीढ़ी ने भी भारतीय सेना में मुकाम हासिल किया है। इस बार परिवार की बेटी ने राष्ट्र सेवा के जज्बे के साथ भारतीय सेना की यूनिफॉर्म पहनी है। विजय पाल सिंह की बेटी निकिता सिंह को जज एडवोकेट जनरल के तहत लेफ्टिनेंट के तौर पर कमीशन प्राप्त हुआ है।

Photo By Google

Satna Today News:

एसएसबी परीक्षा में देश भर में टॉप कर विंध्य

निकिता ने इंटरव्यू के लिए चयनित 33 प्रतिभागियों को पीछे छोड़ कर प्रथम स्थान हासिल किया। इस पद के लिए सिर्फ 3 सीटें थीं, जिनमें अव्वल नंबर पर निकिता ही रहीं। उन्होंने ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी चेन्नई में एक वर्ष का प्रशिक्षण प्राप्त किया। इसके बाद उन्हें एक गरिमामय समारोह में कमीशन प्रदान किया गया।सतना और पूरे मध्य प्रदेश का नाम भारत मे रोशन करने वालीं 26 वर्ष की निकिता अब बॉर्डर पर जाएंगी। चेन्नई में जब कमीशन सेरेमनी हुई तो बेटी की उपलब्धि ने मां प्रेरणा सिंह आउट पिता रिटायर्ड कर्नल विजय पाल सिंह का सिर सम्मान से और ऊंचा और सीना गर्व से चौड़ा कर दिया। निकिता के छोटे भाई समर्थ सिंह इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे हैं।

Photo By Google

एसएसबी में हुआ सिलेक्शन

Satna Today News: सतना शहर के समीपी ग्राम हाटी की मूल निवासी निकिता हाईस्कूल तक सतना के सेंट माइकल स्कूल में पढ़ीं। इसके बाद उन्होंने पुणे में पढ़ाई कर बीए एलएलबी की डिग्री हासिल की। निकिता ने डिग्री हासिल करने के बाद सर्विसेज सेलेक्शन बोर्ड (एसएसबी) की परीक्षा दी, उसमें भी सफलता हासिल की। निकिता को इंटरव्यू के लिए डायरेक्ट कॉल लेटर आया और वहां उन्होंने 3 पदों के लिए चयनित 33 प्रतिभागियों में पहला स्थान प्राप्त किया।

Photo By Google

 इसे भी पढ़े-Satna News: ‘हर घर तिरंगा’ अभियान के तहत जन-जागरूकता रैली का हुआ आयोजन

दादा और नाना दोनों कानूनविद

Satna Today News: निकिता की मां प्रेरणा सिंह बताती हैं कि निकिता के दादा ब्रिगेडियर कृष्णपाल सिंह भी इसी जीएजी ब्रांच में रहे हैं। नाना सुरेंद्र सिंह परिहार जाने-माने वकील हैं। मप्र हाईकोर्ट की स्टेट बार अनुशासन समिति के अध्यक्ष रह चुके हैं। दादा और नाना दोनों कानूनविद थे, लिहाजा निकिता की रुचि बचपन से ही लॉ मैटर्स पर रही है। नाना सुरेंद्र सिंह भी चाहते थे कि उनकी नातिन फौज की जीएजी ब्रांच में जाए।

Article By Sunil

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button