Satna News: जर्जर भवनों में पढ़ने को मजबूर नौनिहाल छात्र, कभी भी हो सकता है हादसा

Satna News Today: सतना में सरकारी शिक्षा व्यवस्था बदहाल, जर्जर भवनों में पढ़ने को मजबूर नौनिहाल छात्र, जिले में 20 विद्यालयों के पास नहीं है खुद की बिल्डिंग, जिले के आधा सैकड़ों से ज्यादा विद्यालय हो चुके हैं जर्जर, कभी भी धरासाई हो सकते हैं जर्जर भवन और हो सकता है हादसा। शिक्षा को लेकर सरकार चाहे जितने बड़े दावा कर ले, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही बया करती है.

Photo By Google

Satna News: दरअसल सतना जिले में सरकारी शिक्षा व्यवस्था और विद्यालयों की इमारतें पूरी तरह से बदहाली का शिकार हो चुकी हैं. जिले के नौनिहाल छात्र जर्जर विद्यालय मे पढ़ाई कर रहे हैं, सतना जिले के आधा सैकड़ा से अधिक विद्यालय जर्जर हो चुके है, और इन जर्जर विद्यालय में नौनिहाल छात्र पढ़ रहे हैं, और यह विद्यालय कभी भी धरासाई हो सकते हैं और बड़ा हादसा हो सकता है, अब ऐसे जर्जर विद्यालय से बच्चे तो बच्चे शिक्षक भी खौफ खाने लगे है, लेकिन शिक्षा विभाग के अफसर हादशे का इंतजार कर रहे है।

Photo By Google

Satna News: सतना जिले में प्राथमिक विद्यालयों की कुल संख्या 2640 है, माध्यमिक विद्यालयों की कुल संख्या 941 है, हाई स्कूल 155 और हायर सेकेंड्री स्कूल 146 हैं, जिनमें से ज्यादातर विद्यालयों में बिजली-पानी की पर्याप्त व्यवस्था नहीं है, जबकि 20 विद्यालय के पास खुद की बिल्डिंग ही नहीं है। सतना जिले में 171 स्कूल भवन ऐसे हैं, जो 30 साल पुराने हो चुके हैं, इनमें तत्काल मरम्मत की जरूरत है, शिक्षा विभाग की रिपोर्ट पर नजर डालें तो ऐसे 151 प्राथमिक विद्यालय और 20 विद्यालय माध्यमिक हैं, सबसे खराब स्थिति अमरपाटन की है,

Photo By Google

 इसे भी पढ़े-Satna News: चित्रकूट अमावस्या मेला की तैयारियों का कलेक्टर और एसपी ने लिया जायजा

Satna News: यहां 34 स्कूलों को मरम्मत की जरूरत हैं, उचेहरा में 33, रामनगर में 28, मैहर में 22 स्कूलों की मरम्मत होनी जरूरी है, लेकिन जिले के कई शासकीय विद्यालय भवन ऐसे हैं कि जब से बना तब से मरम्मत नहीं हुई, हालात यह हैं कि भवन पूरी तरह से जर्जर है, जगह-जगह दीवारों पर दरारें आ गई हैं, बारिश के मौसम में कमरों में पानी भर जाता है, शिक्षा विभाग के अफसरों ने पत्र लिखकर लोक निर्माण विभाग को सूचित कर दिया है पर उनके तरफ से अब तक कोई कार्यवाही नहीं की गई।

Article By Sunil

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button