snn

Satna News : जिले में नरवाई की आग का तांडव जारी, पर्यावरण और हो रही जनहानि

सतना जिले में इस वर्ष नरवाई की आग का तांडव जारी है। खेतो में नरवाई की आग से न केवल पेड़ पौधे जलकर नष्ट हो रहे वही किसानों की फसल भी जलकर राख हो रही, यहा तक जन हानि भी हो रही ऐसे में सतना जिला दंडाधिकारी ने पूरे जिले में नरवाई में आग और महुआ की पत्ती जलाने को लेकर प्रतिबंधात्मक आदेश 144 धारा लगा दी है।

इस आदेश के उलंघन पर सतना में पहला केस भी रजिस्टर्ड हुया, सतना पुलिस ने रैगांव क्षेत्र में तीन गांव में लगी 24 अप्रैल को आग के लिए ओठकी गांव निवासी एक किसान पर एफआईआर दर्ज की है, जिसने अपने खेत की नरवाई में आग लगाई थी और आग तीन गांव तक फैल गई थी, पुलिस ने इस मामले में ipc की धारा 188 और 435 के तहत मामला दर्ज किया है जो गैर जमानती धारा है।सतना

सतना जिले में नरवाई में आग लगने से हड़कंप फैला हुआ है, प्रतिदिन नरवाई के आग के तांडव और जानमाल के न्यूक्सान को देखते हुए जिला कलेक्टर ने नरवाई और महुआ पत्ती में आग लगाने को लेकर धारा 144 लगा दी है, अब इस मामले में पुलिस ने धारा 144 का उलंघन कर नरवाई में आग लगाने से अग्नि दुर्घटना और जालमाल के न्यूक्सान की सम्भवना के आरोप में ओढ़की निवासी रामफल अहिरवार पर मामला दर्ज किया है,सतना

सिंहपुर थाने में अपराध क्रमांक 146 में रामफल के खिलाफ आईपीसी की धारा 188 और 435 के तहत मामला दर्ज किया है।हालकि आरोपी रामफल फरार हो गया। रामफल ने ओढ़की गांव में अपने खेत की नरवाई में आग लगाई थी जो फैल कर 15 किलोमीटर तक बांधी, मसनाहा और रेहुटा गांव तक फैल चुकी थी।सतना

हालकि आग भी जिले में बकिया, बड़खुरा भूमकहर, करही, कोटर क्षेत्र में नरवाही कई आग ने तांडव मचाया है, जिसे बुझाने में स्थानीय लोग और दमकल वाहन लगे है। पुलिस अधीक्षक की माने तो समझाइस के साथ साथ अब पुलिस कानूनी कार्यवाही कर रही ताकि पर्यावरण के साथ साथ जान माल का न्यूक्सान न हो।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button