snn

सब्जी का ठेला लगाकर की पढ़ाई और बन गया जज, पिता करते है मजदूरी

सतना मंजिल उन्हीं को मिलती है, जिनके सपनों में जान होती है, पंख से कुछ नहीं होता, हौसलों से उड़ान होती हैं, इस कहावत को आपने अक्सर सुनी होगी, लेकिन इसे चरितार्थ किया है मध्यप्रदेश के सतना स्थित अमरपाटन के एक बेहद गरीब परिवार के बेटे शिवाकांत कुशवाहा ने,

गरीबी ऐसी की परिवार एक वक्त का खाना भी मुश्किल से जुटा पाता था, लेकिन 9 साल पहले मर चुकी माँ का सपना था कि उसका बेटा जज बने, माँ का सपना पूरा करने में गरीबी अंडे आई तो दिन में सब्जी का ठेला लगाया और रात में पढ़ाई और इस सपूत ने अपनी माँ का सपना पूरा कर दिखाया, सब्जियों का ठेला लगाने वाले शिवाकांत ने ओबीसी वर्ग में पूरे मध्यप्रदेश मे दूसरी रैंक हासिल की है,, अब जज की कुर्सी में बैठकर न्याय करेगा।FEATURED

मध्य प्रदेश सिविल जज परिणाम ओबीसी वर्ग में द्वितीय स्थान पाने वाले सतना जिले के अमरपाटन के रहने वाले शिवाकांत कुशवाहा चार बार सिविल जज की परीक्षा में बैठे हैं,, लेकिन सफलता नहीं मिली पांचवी और आखिरी बार सफलता हाथ लगी। इस बार घोषित परीक्षा परिणाम में ओबीसी वर्ग से प्रदेश में दूसरा स्थान प्राप्त किया है कड़ी मेहनत, लगन, परिश्रम के बल पर शिवाकांत कुशवाहा को यह मुकाम हासिल किया है,FEATURED

शिवाकांत कुशवाहा के संघर्ष की कहानी सुन हर कोई को प्रेणना ले सकता है, पिता कुंजी लाल कुशवाहा मजदूरी करके पूरे परिवार का भरण पोषण करते है, तो मां भी बेटों को पालने के लिए मजदूरी करती थी, जो 9साल पहले नही रही, तीन भाई एक बहन में शिवाकांत कुशवाहा दूसरे नंबर के है

Satna News : आईएएस अफसर बनकर करना चाहती है देश और समाज की सेवा- सुचिता

बचपन से ही पढ़ाई में लगन थी लेकिन घर की दयनीय स्थिति को देखते हुए पढ़ाई के साथ साथ सब्जी का ठेला लगाकर परिवार का भरण पोषण में हाथ बटाया, कभी गन्ने के जूस का ठेला लगाते तो कभी सब्जियों का,FEATURED

लेकिन हार नहीं मानी और पठन पाठन करता रहा  परिणाम अब सामने है. ठेला लगाकर सब्जियां बेचने वाला शिवाकांत अब न्याय के मंदिर की कुर्सी में बैठ इंसाफ करेगा, बेटे की इस सफलता पर पिता गर्व महसूस कर रहे और बेहद खुश है।

mp board 10th result 2022 सतना की बेटी ने किया कमाल, हाईस्कूल की परीक्षा में किया प्रदेश में टॉप

शिवाकांत कुशवाहा प्रारंभिक शिक्षा से लेकर हाई स्कूल एवं हायर सेकंडरी की परीक्षा सरदार पटेल स्कूल अमरपाटन एवं कॉलेज की पढ़ाई अमरपाटन शासकीय कॉलेज में ग्रहण की उसके बाद रीवा के ठाकुर रणमत सिंह महाविद्यालय LLB  करने के बाद कोर्ट में प्रैक्टिस के साथ-साथ सिविल जज की तैयारी करने लगे,FEATURED

चार बार असफल होने के बाद भी हार नही मानी और अब पांचवी बार प्रदेश में ओबीसी वर्ग में द्वितीय स्थान प्राप्त किया अपनी मंजिल हाशिल कर ली ,शिवाकांत कुशवाहा ने इस उपलब्धि पर अपने परिवार इष्ट मित्र शुभचिंतकों का आभार जताया और अपनी संघर्ष की कहानी खुद बयां की।FEATURED

बहरहाल शिवाकांत की लगन मेहनत और उसके परिवार का सपोट से जो सपने शिवाकांत ने देखे वो आज पूरे हो चुके,, शिवाकांत उन अभ्यर्थियों के लिए आदर्श होंगे जो असफलता मिलने से हार मान लेते है और आत्मघाती कदम तक उठा लेते है, शिवाकांत ने चार बार असफल हुये लेकिन हार नही मानी और आज सपनो के सौदागर बन गए।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button