Satna News: मीटिंग में निष्पक्ष मतदान कराने के लिए पुलिस के साथ बनाई गई रणनीति

सतना कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अनुराग वर्मा ने जिले में प्रथम चरण में 25 जून को मतदान संपन्न होने वाले 3 विकासखंडों के सेक्टर मजिस्ट्रेट और सेक्टर पुलिस अधिकारियों की संयुक्त बैठक में कहा कि मतदान के दिन सेक्टर मजिस्ट्रेट और सेक्टर पुलिस अधिकारी अपने आवंटित प्रभार क्षेत्र के मतदान केन्द्रों में सतत भ्रमण करेंगे और बेहतर समन्वय के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करते हुये,

शांति और कानून व्यवस्था कायम रखकर चुनाव संपन्न करायेंगे। टाउन हाल सतना में आयोजित इस संयुक्त बैठक में राज्य निर्वाचन आयोग के प्रेक्षक भारत भूषण गंगेले, पुलिस अधीक्षक आशुतोष गुप्ता, अपर कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी राजेश शाही, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एसके जैन, सीएसपी महेन्द्र सिंह, एसडीएम उचेहरा एचके धुर्वे, आरआई सत्यप्रकाश मिश्रा, कम्युनिकेशन प्लान के नोडल अधिकारी गौरव शर्मा उपस्थित थे।

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री वर्मा ने कहा कि प्रथम चरण के चुनाव में मझगवां, सोहावल और उचेहरा 3 विकासखंडो के 259 ग्राम पंचायतों में 868 मतदान केन्द्रों पर मतदान संपन्न होगा। इसके लिये कुल 83 सेक्टर बनाये जाकर 83-83 सेक्टर मजिस्ट्रेट और सेक्टर पुलिस अधिकारी नियुक्त किये गये हैं। इसके अलावा प्रत्येक विकासखंडो को 3 से 4 विशेष सेक्टर में विभाजित कर

अनुविभागीय दंडाधिकारी, 2-2 कार्यपालिक मजिस्ट्रेट और एक-एक पुलिस अधिकारी भी इन सेक्टरों में तैनात किया गया है। कलेक्टर ने कहा कि सेक्टर अधिकारी और संबंधित पुलिस अधिकारी आपस में समन्वय स्थापित कर क्षेत्र का लगातार भ्रमण करेंगे। इस दौरान उन्हें कोई सूचना प्राप्त होती है तो सबसे पहले सूचना का सत्यापन कर प्रारंभिक निराकरण की कार्यवाही करेंगे। यदि समस्या वरिष्ठ अधिकारियों के स्तर की है तो उसे उच्च स्तर पर फारवर्ड करेंगे।

निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त प्रेक्षक भारत भूषण गंगेले ने कहा कि आप सबके लिये चुनाव कार्य कोई नया अनुभव नहीं है और आपकी कर्मठता, लगनशीलता पर जिला प्रशासन या चुनाव आयोग को किसी प्रकार का कोई संदेह नहीं है। उन्होने कहा कि सतना जिला शांतिपूर्ण और सौहार्दपूर्ण वातावरण का जिला है। निर्वाचन आयोग के निर्देशों का अक्षरशः पालन करें। कुशलता और सत्यता के साथ निष्पक्ष होकर चुनाव कार्य संपादित करें। उन्होने कहा कि चुनाव के दौरान निष्पक्ष रहना भी है और निष्पक्ष दिखना भी है।

पुलिस अधीक्षक आशुतोष गुप्ता ने कहा कि पुलिस अधिकारी और सेक्टर मजिस्ट्रेट अपना बेहतर संपर्क और समन्वय बनाये रखें तथा निष्पक्षता के साथ कर्तव्यों का निर्वहन करें। किसी भी घटना की सूचना मिलने पर सबसे पहले सत्यता का परीक्षण करें और स्पॉट पर तत्काल पहुंचे। उन्होने कहा कि मोबाईल पुलिस वाहन, सेक्टर पुलिस अधिकारी और थाना प्रभारियों का बल अलर्ट पोजीशन पर रहेंगे और कोई भी सूचना मिलने पर 4 से 5 मिनट के भीतर मौके पर पहुंचेगे। उन्होने कहा कि सभी पुलिस वाहनों पर स्टैटिक सेंस लगा हुआ है। इसलिये जरुरत के मैसेज ही प्वांईंट पर चलायें।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button