snn

Satna News : एक बार फिर तेंदूपत्ता की तुड़ाई में बाधा डालने तराई में डकैतों की सुगबुगाहट

सतना तेंदूपत्ता का सीजन सुरू होते ही तराई एरिया में फिर बदमासो की धमक हो चुकी, तेंदूपत्ता तोड़ने और संग्रहण करने वालो पर बदमाश का खौफ बन चुका है, ऐसे में सतना पुलिस और वन दस्ते ने सर्चिंग अभियान शुरू किया है, एमपी यूपी पुलिस की वार्डर मीटिंग भी हुई। पुलिस अब जगलो मे घात लगाए बदमाशों की धड़पकड़ शुरू कर सर्च अभियान छेड़ा है।

इन दिनों तेंदूपत्ता तुड़ाई का सीजन चालू है। जिले के मझगवां पसमनिया सहित चित्रकूट के जंगलों में आदिवासी परिवार तेंदूपत्ता तोड़ कर धन संग्रह करते है। इन्ही वनवासी क्षेत्र में तेंदूपत्ता का संग्रहण भी होता है। हर वर्ष इस सीजन में स्थानीय बदमास भी तेंदूपत्ता के सीजन में सक्रिय होते है और रंगदारी बसूलते है। मजदूरों के साथ मारपीट करते है और फड़ संग्राहकों को अपहरण की धमकी देकर मोटी रकम बसूलते है,सतना

हर वर्ष तेंदूपत्ता के सीजन में सक्रिय बदमाशों के इतिहास को ध्यान में रखकर इस वर्ष सतना पुलिस ने पहले से ही तैयारी कर रखी है। सरहदी इलाको में उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश की पुलिस संयुक्त सर्चिंग अभियान सुरू किया है तो जंगलों में वन और पुलिस के जवान नजर बनाए हुए है।सतना

चित्रकूट के जंगल जो कि दस्यु प्रभावित क्षेत्र में आता है यहां एक बार फिर संदिग्ध गतिविधियां हुई हैं, जिसे लेकर पुलिस सतर्क हो गई है। तेंदूपत्ता तुड़ाई के सीजन में चित्रकूट के कर्बी कोतवाली क्षेत्र के कुछ संदिग्ध बदमाशों की हरकत पर पुलिस ने दबिश दी है।सतना

इसे देखते हुए पुलिस रात में वाहनों की चेकिंग कर रही तो दिन में भी जगलो की सर्च कर रही। सतना पुलिस अधीक्षक ने चित्रकूट के पोखरवार में कैंप किया। इस दौरान उन्होंने ग्रामीणों से संवाद किया और संदिग्धों की जानकारी पुलिस को देने आग्रह किया। ताकि पुलिस को बदमासो की सटीक जानकारी मिल सके और बदमाश बारदात करने से पहले पुलिस शिकंजे में हो।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button