Satna News: सतना कलेक्टर की बड़ी कार्रवाई, 1 एडीओ और 2 पीसीओ समेत तीन सस्पेंड

Satna Today News: सतना ग्रामीण विकास से जुड़े कार्यों के प्रति लापरवाही कर्तव्यों के प्रति उदासीनता और समीक्षा बैठक में अनुपस्थित रहने पर कलेक्टर ने बड़ी कार्रवाई करते हुए तीन लोगों को सस्पेंड कर दिया है। कलेक्टर ने कहा ग्रामीण विकास के सभी मैदानी अधिकारी-कर्मचारी अपनी वर्किंग में सुधार लाएं।

गुरुवार को जिला पंचायत के सभाकक्ष में लगभग 4 घंटे चली ग्रामीण विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने यह निर्देश दिए। इस मौके पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डॉ परीक्षित झाड़े, कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा अश्वनी जायसवाल सहित सभी जनपद के सीईओ, सहायक यंत्री, उपयंत्री, बीसी उपस्थित थे।

कलेक्टर अनुराग वर्मा ने जनपद पंचायतवार उपयंत्रियों के सेक्टर में चल रहे निर्माण कार्यों की जानकारी ली। समीक्षा के दौरान उन्होंने सभी जल संवर्धन के कार्य अधिकतम रूप से अक्टूबर तक पूरे कर लेने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि दिसंबर 2022 तक सभी शत-प्रतिशत जल संवर्धन के कार्य पूरे हो जाने चाहिए।

उन्होंने पंचायत समन्वयक अधिकारियों से कहा कि अपनी सेक्टर की सभी पंचायतों में हर स्कीम का काम देखना और समन्वय के साथ पूरा कराना भी उनकी जिम्मेदारी है। मझगवां विकासखंड के पंचायत समन्वय अधिकारी (पीसीओ) विश्वंभर सिंह को निलंबित करने के निर्देश दिए हैं।

विश्वंभर सिंह को कर्तव्यों के प्रति उदासीनता और समीक्षा बैठक में अनुपस्थित रहने पर कलेक्टर ने तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए। मझगवा विकास खंड की समीक्षा के दौरान निर्माण कार्यों में प्रगति नहीं आने पर उपयंत्री सोनेराम शाक्य और एपीओ को संविदा समाप्ति का नोटिस जारी करने के निर्देश दिए गए।

कलेक्टर अनुराग वर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के तहत सभी ग्राम पंचायत में शिविर लगाए जा रहे हैं। इन शिविरों में प्राप्त आवेदनों को उसी दिन पोर्टल में फीड कराकर पात्रता जांच, स्वीकृति, अस्वीकृति की कार्यवाही भी प्रारंभ करें। कलेक्टर ने कहा कि पंचायतों में जीआरएस के माध्यम से आयुष्मान कार्ड बनाने के कार्य में अच्छी प्रगति आई है,

लेकिन इस गति को कायम रखते हुए अक्टूबर 2022 तक सभी पात्र हितग्राहियों के शत-प्रतिशत आयुष्मान कार्ड भी बन जाने चाहिए। मनरेगा में अमृत सरोवर, पुष्कर धरोहर, शाला परिसर में मां की बगिया आदि उपयोजना के स्वीकृत कार्या को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश भी कलेक्टर ने दिए। सीईओ जिला पंचायत डॉ झाड़े ने बताया कि अमृत सरोवर योजना में 125 सरोवरों के निर्माण का नवीन लक्ष्य मिला है।

कलेक्टर ने सरोवर के निर्माण के लिए साइट आदि चयन की कार्यवाही प्रारंभ करने के निर्देश दिए। मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम की समीक्षा के दौरान अनेक शालाओं में नियमित एमडीएम नहीं वितरण होने, गुणवत्ता संबंधी मिल रही शिकायतों पर कलेक्टर ने अप्रसन्नता जताते हुए टास्क मैनेजर राखी गुप्ता, क्वालिटी मॉनिटर कामदा मिश्रा और रीता शुक्ला को संविदा समाप्त करने की नोटिस जारी करने के निर्देश दिए।

इसी प्रकार प्रधानमंत्री आवास योजना में सोहावल विकासखंड में कमजोर प्रगति होने पर जनपद सोहावल के बीसी विजय जायसवाल और नीलम सिंह तथा उचेहरा के बीसी श्री तिवारी को भी संविदा समाप्ति की नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। आजीविका मिशन में महिला स्व-सहायता समूहों को ऋण वितरण एवं रोजगार सृजन के क्षेत्र में कमजोर प्रगति होने पर नागौद और सोहावल की पूरी एनआरएलएम टीम को संविदा समाप्ति का नोटिस जारी करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए हैं।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button