वाहन चैकिंग के नाम पर आमजन से वसूली बंद हो- नारायण त्रिपाठी, CM को लिखा पत्र

सतना जिले के मैहर विधायक नारायण त्रिपाठी ने समूचे विन्ध्य क्षेत्र सहित संपूर्ण प्रदेश में गत चार-छः माह से थाना व ट्रैफिक पुलिस द्वारा शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में जगह-जगह वाहन चैकिंग के पाइंट लगाये जाकर आम लोगों में दहशत का वातावरण निर्मित कर अवैध वसूली रोकने हेतु मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर तत्काल रोक लगाने की मॉंग की है।

उन्होंने कहा कि भ्रमण के दौरान देखा जाता है कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी मुख्य मार्ग पर पुलिस द्वारा चैकिंग पाइंट बना लंबी लंबी कतार लगाकर वाहनों को रोककर कागजों की जांच के नाम पर वसूली की जाती है। गॉंव देहात के सामान्य लोग जो मोटर साइकिल से इलाज कराने, दवाई लेने, बाजार जाने, महिलाओं बच्चों को साथ लिये नातेदारी -रिश्तेदारी, शादी-विवाह में आने जाने का काम कर रहे होते हैं वे इस जांच से सर्वाधिक पीड़ित होते हैं व वसूली का शिकार बनते हैं।

जांच पड़ताल के नाम पर आम शरीफ लोगों में भी दहशत का वातावरण बन गया है, अब लोग प्रसन्नता से घर से वाहन लेकर नहीं निकल पाते क्योंकि वे जानते हैं कि यदि रास्ते में पुलिस मिल गई तो किसी न किसी बहाने से चालान बनना या 100-200 रूपये का दंड लगना तय है। इस तरह के चैकिंग अभियान से सर्वाधिक पीड़ित गॉंव देहात के सामान्य सीधे-साधे सज्जन लोग होते हैं, जिनमें इस तरह की कार्यवाही से भय का माहौल बन चुका है।

मैहर विधायक ने कहा कि हम भी चाहते हैं कि प्रदेश की पुलिस का भय अपराधियों व गड़बड़ी करने वालों में बने, बदमाशी, गुंडागर्दी, करने वाले अपराधी प्रवृत्ति के लोग पुलिस से डरें किंतु आम जनता में पुलिस का भय न बने। उन्होंने कहा कि सब लोग वाहन के वैध दस्तावेज, लायसेंस, बीमा होने पर ही वाहन चलायें किंतु इस हेतु दस्तावेज बनाने के कार्य का सरकार द्वारा सरलीकरण कर गॉंव-गॉंव अभियान चलाने की जरूरत है न कि इस नाम पर पुलिस को अवैध वसूली व आमजन को परेशान करने की छूट दी जायेे।

उन्होंने कहा कि यह बेहद दुखद है कि अपराधियों के स्थान पर शरीफ लोगों में पुलिस का भय बन रहा है। जरूरी काम होने पर भी जब आम आदमी पुलिस के डर से घर से न निकलना चाहे तो यह चिंताजनक है। पुलिस द्वारा इस तरह का वातावरण निर्मित किया जाना अशोभनीय है। आज हमको आवश्यकता है कि बिना डर-भय के ऐसी स्थितियां निर्मित करें कि छात्र-छात्रायें,

गॉंव देहात के आम लोग भी डायविंग लायसेंस बननाने सहित अन्य जरूरी दस्तावेज साथ रखने के लिये प्रेरित हों ताकि वे पुलिस के सामने अपमान व आर्थिक लूट से बच सकें। विधायक ने विन्ध्य सहित पूरे प्रदेश में पुलिस द्वारा वाहन चैकिंग के नाम पर आम जनता व शरीफ लोगों में बनाये जा रहे भय से निजात दिलाये जाने हेतु मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से आवश्यक कार्यवाही करने की मांग की है।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button