Employment fair in Satna : 172 हितग्राहियों को 3 करोड़ 55 लाख रुपये के ऋण वितरित

प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत कुल 172 हितग्राहियों को 3 करोड़ 55 लाख रुपये के वितरण पत्र प्रदान किए। इसी प्रकार 243 हितग्राहियों को 5 करोड़ 96 लाख 70 हजार रुपये के ऋण स्वीकृति पत्र प्रदान किए गए। कोरोना प्रोटोकाल के दृष्टिगत मेला कार्यक्रम में केवल 100 हितग्राहियों को आमंत्रित किया गया था

Employment fair in Satna : प्रदेश के पिछड़ा वर्ग कल्याण, पंचायत एवं ग्रामीण विकास राज्यमंत्री श्री रामखेलावन पटेल (Ramkhelwan Patel) ने कहा कि स्वामी विवेकानंद जी (Swami Vivekanand) के जन्मदिवस पर युवा दिवस के उपलक्ष्य में रोजगार-स्वरोजगार मेला का आयोजन मध्य प्रदेश सरकार की युवाओं को रोजगार प्रदान करने के क्षेत्र में विशेष पहल है। उन्होंने कहा कि जिला स्तर पर इस तरह के स्व-रोजगार मेले हर माह आयोजित होंगे।

Employment fair in Satna

राज्य मंत्री श्री पटेल बुधवार को टाउन हॉल सतना में आयोजित स्व-रोजगार मेला और रोजगार दिवस सम्मेलन (Employment fair in Satna) को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता सांसद गणेश सिंह (Ganesh Singh) ने की। इस मौके पर कलेक्टर अनुराग वर्मा (Collector Satna) , आयुक्त नगर निगम तन्वी हुड्डा, सीईओ जिला पंचायत डॉ परीक्षित राव, योगेश ताम्रकार, इंडियन बैंक के जोनल हेड पी रमेश, एलडीएम एपी सिंह, सहायक प्रबंधक जिला उद्योग केंद्र श्री पांडेय सहित सभी बैंकों के जिला स्तरीय प्रबंधक उपस्थित थे।

राज्यमंत्री श्री पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान के नेतृत्व में राज्य सरकार द्वारा आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश की दिशा में तेजी से कदम बढ़ाए जा रहे हैं। युवाओं को रोजगार से जोड़ने और कौशल उन्नयन के साथ ही उन्हें उद्यमी बनाकर आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि औद्योगिक क्षेत्र और क्लस्टर में उद्यमों की स्थापना कर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जा रहे हैं।

Employment fair in Satna

सांसद गणेश सिंह ने कहा कि सतना जिले में स्व-रोजगार (Employment fair in Satna) से आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ने की व्यापक संभावनाएं मौजूद हैं। वनोपज आधारित उद्यम, खाद्य प्र-संस्करण और सीमेंट उद्योगों की आवश्यकता अनुसार छोटे-मोटे यंत्र और सामग्री बनाने के उद्यमों की वृहद संभावना है।

इसके अलावा शहरी और ग्रामीण क्षेत्र की महिला स्व-सहायता समूह भी पौष्टिक आहार निर्माण, दुग्ध उत्पादन, आचार-पापड़-बड़ी एवं घरेलू उपयोग के सामानों की विनिर्माण इकाईयां स्थापित कर बेहतर आय के माध्यम तैयार कर सकती हैं। उन्होंने बताया कि स्टार्ट-अप, स्टैंड-अप, पीएम मुद्रा लोन (PMMY), पीएम स्वनिधि जैसी योजनाओं से सतना जिले के 6728 युवाओं को लाभान्वित किया गया है और उद्यम स्थापना के लिये 4499 लाख रुपये के ऋण उपलब्ध कराये गये हैं।

MP में बेकाबू कोरोना, 24 घंटो में मिले 3639 मामले

जिला स्तरीय स्व-रोजगार मेला (Employment fair in Satna) में राज्यमंत्री श्री पटेल एवं सांसद श्री सिंह ने प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, स्वनिधि योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण एवं शहरी आजीविका मिशन, मुख्यमंत्री ग्रामीण पथकर विक्रेता योजना और प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत कुल 172 हितग्राहियों को 3 करोड़ 55 लाख रुपये के वितरण पत्र प्रदान किए।

इसी प्रकार 243 हितग्राहियों को 5 करोड़ 96 लाख 70 हजार रुपये के ऋण स्वीकृति पत्र प्रदान किए गए। कोरोना प्रोटोकाल के दृष्टिगत मेला कार्यक्रम (Employment fair in Satna) में केवल 100 हितग्राहियों को आमंत्रित किया गया था। शेष वितरण और स्वीकृत हितग्राहियों को स्वीकृति पत्र घर भेजे जाएंगे।

जिला स्तरीय स्व-रोजगार दिवस (Employment fair in Satna) के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के राज्य स्तरीय कार्यक्रम भोपाल से किए जा रहे संबोधन को लाइव देखा गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि स्वामी विवेकानंद हमारी प्रेरणा हैं। उनके विचार हमें ऊर्जा से भर देते हैं। युवा दिवस से प्रारंभ स्व-रोजगार मेला का आयोजन अब प्रति माह होगा।

MP में बेदर्द हुआ हुआ मौसम, बादल हटते ही बढ़ गई ठिठुरन

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि युवा दिवस पर प्रदेश के सवा 5 करोड़ युवाओं को रोजगार और स्व-रोजगार से जोड़ा जा रहा है मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बालाघाट के विनोद कुमार, नीमच के नीलेश पाटीदार, रीवा के पार्थ पांडेय और नीलू अग्रवाल, ग्वालियर के अली अहमद एवं टीकमगढ़ की लाभान्वित हितग्राही अनीता सोनी से रूबरू वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button