नए कलेक्टर ने मैहर में मां शारदा के दर्शन कर संभाला कार्यभार

Satna News In Hindi : जिले के नए कलेक्टर अनुराग वर्मा मंगलवार सुबह सतना पहुंचे. उन्होंने पहले मैहर में आदिशक्ति मां शारदा का आशीर्वाद लिया और फिर 11 बजे कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंचे और कलेक्टर व जिलाधिकारी सतना का कार्यभार संभाला. इस अवसर पर निवर्तमान कलेक्टर अजय कटेरिया ने उन्हें अपनी जिम्मेदारी सौंपी। पहले तो उन्होंने पदाधिकारियों और उनके अधीनस्थों से परिचित कराया और सतना की कार्यशैली के बारे में जाना। इसी बीच सतना में कर्मचारी संघ समेत कई लोगों ने उनका स्वागत किया. उनसे मिलने के लिए दिन भर लोगों की भीड़ लगी रही।

नए कलेक्टर ने मैहर में मां शारदार के दर्शन कर संभाला कार्यभार

सतना में कार्यभार अपने हाथों में लेने के बाद नए कलेक्टर अनुराग वर्मा शाम को चित्रकूट पहुंचे जहाँ उन्होंने भगवान कामतानाथ के के दर्शन कर पूजा अर्चना की इस दौरान कलेक्टर अनुराग वर्मा के साथ पुलिस अधीक्षक सतना , एसडीएम् और तहसीलदार उपस्थित थे

नए कलेक्टर को विंध्य के सिंगरौली क्षेत्र में है कार्य का अनुभव

ज्ञात हो कि मध्य प्रदेश सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग ने रविवार को 2012 बैच के आईएएस अधिकारी कलेक्टर अजय कटासरिया को सतना से मध्य प्रदेश सरकार के उप सचिव के पद पर स्थानांतरित कर दिया. वहीं, मध्य प्रदेश सरकार के औद्योगिक नीति एवं निवेश संवर्धन विभाग में पदस्थापित 2012 बैच के ही आईएएस अधिकारी अनुराग वर्मा को मंत्रालय से हटाकर सतना कलेक्टर बनाया गया है.

श्री वर्मा मूल रूप से उत्तर प्रदेश के रायबरेली के रहने वाले हैं। निवर्तमान कलेक्टर अजय कटेसरिया झारखंड के धनबाद के रहने वाले थे. सतना में कार्यभार संभालने वाले नए कलेक्टर अनुराग वर्मा भी मुरैना और हरदा में कलेक्टर रह चुके हैं . इससे पहले, उन्होंने सागर और सिंगरौली में नगर निगम में आयुक्त के रूप में भी कार्य किया।

सतना को है नए कलेक्टर से उम्मीदें

सतना जिले के 50वें कलेक्टर के रूप में कार्यभार संभालने वाले अनुराग वर्मा से जिले की जनता को काफी उम्मीदें हैं. सतना एक वाणिज्यिक शहर के साथ एक विकासशील शहर के रूप में जाना जाता है। इस जिले में जहां मैहर का प्रसिद्ध तीर्थ स्थान शारदा माता, भगवान श्री राम चित्रकूट का कार्य स्थल जहां कामतानाथ, गुप्त गोदावरी स्थित है। वहीं इस जिले को सीमेंट फैक्ट्री के हब के रूप में भी जाना जाता है। इसके अलावा सतना में सैकड़ों छोटे और मझोले उद्योग हैं। जिसमें आए दिन कोई न कोई समस्या बनी रहती है।

जिला प्रशासन विशेषकर कलेक्टर को सतना जिले में उद्योग एवं शांति के विकास में विशेष रूप से श्रमिकों एवं प्रबंधन के बीच महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है। आशा है कि शहर के समग्र विकास के साथ, नए कलेक्टर अनुराग वर्मा स्मार्ट सिटी परियोजनाओं के व्यवस्थित प्रबंधन और कार्यान्वयन में अपने अनुभव के साथ नए कदम उठाएंगे।

यह भी पढ़ें : भारत पहुंची पानी से चलने वाली कार, महंगे डीजल पेट्रोल से मिलेगी मुक्ति

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button