ना थाना ना कोर्ट सतना में 20 सालों का झगड़ा कुछ घंटों में हुआ खत्म

0 साल से चला आ रहा विवाद एसडीएम मैहर धर्मेंद्र मिश्रा, तहसीलदार मानवेन्द्र सिंह और एसडीओपी हिमाली सोनी की सूझबूझ से खत्म हो गया

सतना | जिले के मैहर तहसील के बेल्दरा में 2 परिवारों के बीच दो दशक से चला आ रहा विवाद प्रशासन और पुलिस अधिकारियों की सूझबूझ से खत्म हो गया है। इसी के साथ 20 साल से चला आ रहा विवाद एसडीएम मैहर धर्मेंद्र मिश्रा, तहसीलदार मानवेन्द्र सिंह और एसडीओपी हिमाली सोनी की सूझबूझ से खत्म हो गया। प्रशासन और पुलिस के इन अफसरों ने सही मायनों में साबित की अपने पद की गरिमा और सार्थकता।

आपको बता दे कि मैहर थाना क्षेत्र के बेलदरा में दिनेश साकेत-पिंकी साकेत और मोतीलाल साकेत कुमारे साकेत के परिवारों के बीच 20 साल से चल रहे जमीनी विवाद को प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों ने बातचीत से सुलझा दिया। दोनों परिवारों के बीच इसी बात को लेकर कयी बार झगड़े हुए,विवाद थाने से लेकर कोर्ट कचहरी तक पहुंचा। दोनों ही परिवारों ने एक-दूसरे पर मुकदमे भी दर्ज कराएथे।

सतना : तहसीलदार ने की सोशल मीडिया पर अनर्गल पोस्ट तो कलेक्टर ने थमाया नोटिस

अंततः जब विगत दिनों यह मामला मैहर के तहसीलदार मानवेन्द्र सिंह के सामने आया तो उन्होंने एसडीओपी हिमाली सोनी से चर्चा करने के बाद एसडीएम धर्मेंद्र मिश्रा के समक्ष रखा और उनके मार्गदर्शन में बेलदरा पहुंच कर दोनों परिवारों को समझाइश दी तथा राजस्व निरीक्षक और पटवारी को जमीनों की नाप कर दोनों परिवारों के अधिकार की जमीन का नामांत्रण 2 दिन में करने के निर्देश दिए। इस बात पर दोनों परिवार खुशी खुशी राजी हो गए।

बड़ी कार्यवाही, राशन दुकानदार पहुँचा सलाखों के पीछे, ये है बड़ी वजह

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button