2 आतंकियों को ढेर करने के बाद सतना का सपूत शोपियां में शहीद, कल होगा अंतिम संस्कार

सतना । कश्मीर घाटी के शोपियां में 2 आंतकियों को मार गिराने के बाद विंध्य के जांबाज सपूत कर्णवीर सिंह राजपूत ने शहादत को गले लगा लिया। 22 राजपूत रेजिमेंट के 24 वर्षीय जवान कर्णवीर के एक कंधे और दूसरी गोली सिर पर लगी। कर्णवीर की शहादत से परिवार पर तो मानो दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। बेटे के जाने का गम है तो वीरगति मिलने से फख्र भी। मां का तो रो-रोकर बुरा हाल है। दादा और पिता के आंसू थम नहीं रहे।

आपको बता दें कि मूलतः सतना जिले के रामपुर बघेलान थाना क्षेत्र के दलदल (छिबौरा) निवासी अमर शहीद कर्णवीर के पिता रवि कुमार भी सेना की 22वीं राजपूत रेजीमेंट से वर्ष 2017 में सूबेदार मेजर के पद से रिटायर हुऐ। कल पिता को दोपहर 12 बजे जाबांज बेटे की शहादत की खबर मिली।

सरहद की हिफाजत के लिए कर्णवीर ने महज 4 साल पहले आर्मी ज्वाइन की थी। बुजुर्ग पिता को बेटे की शहादत पर गर्व तो है पर आतंकियों के विरुद्ध गुस्सा भी है। यहां शहादत की खबर मिलने पर मां मिथलेश की तबीयत बिगड़ गई। कर्णवीर के बड़े भाई शक्ति सिंह इंदौर में इंजीनियर हैं।

जानकारी के मुताबिक कश्मीर घाटी के आतंक प्रभावित शोपियां के चीरबाग द्रगाड़ इलाके में आतंकियों के खिलाफ चल रहे आपरेशन के दौरान बुधवार की सुबह साढ़े 8 बजे सेना और आतंकियों के बीच उस वक्त एनकाउंटर हुआ जब एक संदिग्ध कार ने सेना के फिक्स पिकेट को पार करने की कोशिश की। कार को रोकने पर उसमें सवार आतंकियों ने फायर कर दिए। सैन्य जवानों ने मोर्चा संभाला और 2 आतंकी ढेर कर दिए। जवाबी हमले में कर्णवीर सिंह राजपूत समेत 2 अन्य जवान घायल हो गए। गंभीर रुप से घायल कर्णवीर उपचार के दौरान वीरगति को प्राप्त हो गए। अब शहीद के परिवार को पार्थिव शरीर का इंतजार है ताकि कर्णवीर के अंतिम दर्शन किए जा सके।

कर्णवीर के शहादत की खबर आते ही उतैली स्थित निवास में शोक व्यक्त करने वालों का तांता लग गया उधर बेटे के सहादत होने की खबर सुनकर कर्णवीर के पिता रवि सिंह की आंखें नम हो उठी, शहादत की खबर आते ही स्थानीय निवासियों के अलावा रामपुर विधायक, सतना सांसद सहित भारी संख्या मे लोग उनके निवास पर पहुंच रहे है।

सीएम शिवराज ने ट्वीट कर, शहीद वीर सपूत को दी श्रद्धांजलि
भारत के वीर सपूत, सतना के लाल, वीर जवान श्री कर्णवीर सिंह राजपूत आज कश्मीर में अपना शौर्य एवं वीरता दिखाते हुए वीर गति को प्राप्त हो गये। ईश्वर वीर शहीद की पुण्य आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान और परिजनों को यह वज्रपात सहन करने की शक्ति प्रदान करें। विनम्र श्रद्धांजलि।

शहीद जवान कर्णवीर के गृहग्राम दलदल पहुंचकर कलेक्टर अजय कटेसरिया व पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह ने शहीद जवान के अंतिम संस्कार की तैयारियों का जायजा लिया, संभावनाएं बताई जा रही है कि शहीद के अंतिम संस्कार में शामिल होने कल दलदल आ सकते है मुख्यमंत्री।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button