सतना : थानेदार पर 302 का मामला दर्ज, कोर्ट ने कहा 3 फीट दूर से कोई माथे पर नहीं मार सकता गोली

अदालत ने पुलिस की कहानी को नकारा,अदालत ने माना कि 3 फिट की दूरी से माथे पर रिवाल्वर से गोली स्वयं नही मारी जा सकती।

थानेदार पर 302 का मामला दर्ज

सतना । बहुचर्चित सिंहपुर थाने मे हुए गोली कांड में अदालत ने तत्कालीन थानेदार विक्रम पाठक और सिपाही आशीष सिंह पर आईपीसी की धारा 302 के तहत कायमी के निर्देश दिऐ है, अदालत ने पुलिस की कहानी को नकारा,अदालत ने माना कि 3 फिट की दूरी से माथे पर रिवाल्वर से गोली स्वयं नही मारी जा सकती।

उल्लेखनीय है इस मामले में पुलिस का तर्क था कि चोरी के संदेही राजपति ने सिंहपुर थाना में पूंछतांछ के दौरान थानेदार की सर्विस रिवाल्वर से स्वयं को गोली मार ली जिससे उसकी मौत गई, इस मामले में पुलिस के द्वारा 304 के तहत प्रकरण कायम किया गया था।

आपको बता दे कि 27 सितंबर की रात लगभग 9 बजे सिंहपुर थाने के अंदर मालखाने में गोली चली, इसमें चोरी के संदेही राजपति कुशवाहा की मौत हो गई थी। मामले में तत्कालीन थाना प्रभारी सिंहपुर विक्रम पाठक एवं आरक्षक आशीष कुमार सिंह के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का अपराध पंजीबद्ध किया गया।

इस मामले में आपको बताते चलें कि थाने के अंदर संदेही की गोली लगने से मौत के मामले में मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए गए थे तत्कालीन आईजी रीवा रेंज के द्वारा सिरमौर एसडीओपी पी एस परस्ते की अगुवाई में एसआईटी का गठन किया गया था गोली कांड का आरोपी थानेदार और सिपाही तत्काल प्रभाव से निलंबित हो गए थे कुछ दिनों बाद दोनों फरार हो गए और मजिस्ट्रियल जांच एवं एसआईटी के सामने बयान दर्ज कराने हाजिर नहीं हुए इस मामले में बिरसिंहपुर थाने में दोनों के विरुद्ध आईपीसी की धारा 304 348 और 34 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया था एसआईटी के द्वारा जांच पूरी होने के उपरांत 27 मार्च 2021 को न्यायालय के समक्ष चालान प्रस्तुत किया गया और अब इस मामले में धारा 304 को बदलकर धारा 302 के तहत मामला दर्ज करने के निर्देश कोर्ट ने दिए हैं

यह भी पढ़े : CM शिवराज ने रैगांव में किया रोड शो, रैगांव कोठी मे खोला घोषणाओं का पिटारा

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button