रैगांव उपचुनाव: आदर्श आचरण संहिता का पालन सुनिश्चित किया जाये, जिला स्तरीय स्टैंडिंग कमेटी की बैठक संपन्न

सतना । भारत निर्वाचन आयोग द्वारा सतना जिले के रैगांव विधानसभा क्षेत्र के उप चुनाव कार्यक्रम घोषित हो जाने के साथ ही रैगांव विधानसभा निर्वाचन के अंतर्गत आने वाले संपूर्ण क्षेत्र में आदर्श आचरण संहिता तत्काल प्रभाव से लागू हो गई है। विधानसभा रैगांव के उप चुनाव कोविड प्रोटोकाल के दायरे में संपन्न होंगे।

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अजय कटेसरिया की अध्यक्षता में मंगलवार को संपन्न जिला स्तरीय स्टैडिंग कमेटी की बैठक में निर्वाचन कार्यक्रम, निर्वाचन प्रक्रिया एवं भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों की जानकारी देते हुये सतना जिले के समस्त राजनैतिक दल, जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों-कर्मचारियों को जारी आदर्श आचरण संहिता का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने की अपील की गई है। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह, अपर कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी राजेश शाही, अतिरिक्ति पुलिस अधीक्षक एसके जैन, संयुक्त कलेक्टर एचके धुर्वे, एसडीएम नागौद धीरेन्द्र सिंह तथा राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

जिला निर्वाचन अधिकारी अजय कटेसरिया ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा विधानसभा क्षेत्र रैगांव के उप चुनाव की सूचना और कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। कार्यक्रमानुसार एक अक्टूबर 2021 को उप चुनाव की अधिसूचना जारी की जाएगी। इसके साथ ही नामांकन पत्र प्राप्त करने का कार्य प्रारंभ हो जाएगा। नामांकन जमा करने की अंतिम तिथि 8 अक्टूबर होगी और 11 अक्टूबर को नामांकन पत्रों की संवीक्षा की जाएगी। नाम वापसी 13 अक्टूबर तक की जा सकेगी। रैगांव विधानसभा क्षेत्र में मतदान 30 अक्टूबर को होगा और मतगणना 2 नवंबर 2021 को की जाएगी।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि विधानसभा रैगांव के उप चुनाव कोविड प्रोटोकॉल के दायरे में होंगे। अभी विधानसभा क्षेत्र में कुल 266 मतदान केंद्र हैं। कोविड प्रोटोकॉल के तहत अधिक मतदाता संख्या वाले 47 मतदान केंद्र के सहायक केन्द्र सहित भारत निर्वाचन आयोग के अनुमोदन उपरांत कुल 313 मतदान केंद्र बनाए जा सकते हैं। उन्होंने बताया कि 210 परिसरों में कुल 313 मतदान केंद्र प्रस्तावित किए गए हैं। रैगावं विधानसभा में कुल 2 लाख 6 हजार 910 मतदाता हैं। जिनमें एक लाख 9 हजार 750 पुरुष एवं 97 हजार 160 महिला मतदाता शामिल हैं। विधानसभा क्षेत्र में कुल 2 हजार 738 दिव्यांग वोटर और 518 सर्विस वोटर हैं।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि नामांकन के समय उम्मीदवार के साथ दो लोग ही रिटर्निंग ऑफीसर कक्ष में जा सकेंगे तथा नामांकन और शपथ पत्र ऑनलाइन भी दिये जा सकेंगे। उन्होने बताया कि 80 वर्ष से अधिक उम्र के मतदाता और चिन्हित दिव्यांग वोटर पोस्टल वैलेट का उपयोग कर सकेंगे। उन्होने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा डोर-टू-डोर संपर्क करने की अवधि मतदान समाप्ति से 72 घंटे पूर्व कर दी गई है। मतदान दिवस पर उम्मीदवार को केवल 2 वाहन की अनुमति पूरे विधानसभा क्षेत्र में होगी। नामांकन दाखिल करते समय उम्मीदवार को 100 मीटर तक की परिधि में केवल 2 वाहन अनुमत्य किये जायेंगे। चुनाव प्रचार अवधि में एक उम्मीदवार को पूरी विधानसभा के लिये केवल 20 वाहनों की अनुमति दी जा सकेगी। चुनाव प्रचार के दौरान रैली, वाहन रैली, रोड शो करने की अनुमति नहीं दी जायेगी। जनसभा स्थल पर वैरीकेटिंग और व्यक्तियों के उपस्थित होने की संख्या का पालन करने की जिम्मेदारी उम्मीदवार पर होगी।

पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह ने कहा कि चुनाव प्रक्रिया एक पारदर्शी प्रक्रिया है। इसलिये भारत निर्वाचन आयोग द्वारा कोविड प्रोटोकाल और विधि सम्यक चुनाव संपन्न कराने के लिये जारी दिशा-निर्देशों के बारे में भली-भांति अवगत रहें और यथा-स्वरूप निर्देशों को निचले स्तर तक पहुंचाकर पालन सुनिश्चित करायें। इस मौके पर जिला स्तरीय स्टैडिंग कमेटी के सदस्य, राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि रमाकांत गौतम, संतोष पाण्डेय, रामसरोज कुशवाहा, शाबिर खान, डॉ लखनलाल साहू भी उपस्थित थे।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button