रेबीज एक गंभीर बीमारी है, प्रतिवर्ष लगभग 20 हजार लोगों की होती है मृत्यु, निकली जागरूकता रैली

सतना । राष्ट्रीय रेबीज नियंत्रण कार्यक्रम के अन्तर्गत जिला चिकित्सालय सतना में मंगलवार को विश्व रेबीज दिवस के अवसर पर रैली का आयोजन किया गया। जागरूकता रैली में जी.एन.एम. कालेज की अध्ययनरत् लगभग 100 छात्राओं ने हिस्सा लिया।

रैली जिला अस्पताल से प्रारंभ होकर मुख्य बाजार के विभिन्न मार्ग से होते हुये जिला अस्पताल परिसर के आई.पी.पी.-6 में समापन किया गया। रैली के माध्यम से रेबीज के प्रति आम-जनमानस में जन-जागरूकता हेतु नारे, संदेश एवं रेबीज बीमारी की रोकथाम एवं संभावित व्यक्तियों के उपचार के बारे में जानकारी देते हुये बताया गया।

जिला चिकित्सालय, सिविल अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में एन्टी रेबीज टीका उपलब्ध है। रेबीज बीमारी अधिकांशतः कुत्ते के काटने पर होती है। यह एक वायरल बीमारी है, जिसके प्रति सभी को जागरूक होना अनिवार्य है। कुत्ते व अन्य पालतू जानवरों के काटे जाने पर तत्काल घाव को धोने के बाद नजदीकी स्वास्थ्य संस्था में जाकर रेबीज का टीका अवश्य लगवायें।

रेबीज एक गंभीर बीमारी है। भारत में प्रतिवर्ष लगभग 20000 लोगों की मृत्यु होती है। यह बीमारी 99 प्रतिशत कुत्तों के काटने से मानव में होती है तथा एक प्रतिशत अन्य जंगली जानवरों के काटने से होती है। इसलिये अपने पालतू जानवरों (कुत्ते व अन्य) का टीकाकरण जरूर कराना चाहिये।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button