MSC कम्प्यूटर साइंस की डिग्री ली और जाली नोट बनाने में किया इस्तेमाल, गिरोह का पर्दाफास

सतना पुलिस ने लॉक डाउन के  समय से चल रहे जाली करेंसी  की बाजार में चलन की सिकायत मिल रही थी ,ये गिरोह कोतवाली सिंहपुर नागौद सहित  कई थाना इलाके में जाली नोट चला रहे थे ,मुखबिर की सूचना और  पर पुलिस ने जाली नोट बनाने गिरोह का पर्दा फास किया ।ये गिरोह 100 रुपये की नोट हूबहू नकली छापते थे और ग्रामीण और शहरी इलाके में भोले भाले लोगो के बीच चला रहे थे ।सतना के राजेन्द्र नगर में संचालित इस अबैध करोबार का आज सतना पुलिस ने खुलासा किया ,गिरोह के तीन सदस्य पुलिस की गिरफ्त में आ गए

इनके पास से पिंटर सहित जाली नोट बनाने की सामग्री और पचास हजार रुपये का जाली नोट बरामद हुया है। इस गिरोह का सरगना आशीष श्रीवास्तव  है जो  एमएससी कम्प्यूटर साइंस की डिग्री ली और अपने हुनर को जाली नोट बनाने में इस्तेमाल किया ,पुलिस ने जाली नोट का मास्टरमाइंड आशीष श्रीवास्तव ,विनोद यादव  रजनीश यादव को गिरफ्तार किया जबकि दो अन्य साथी फरार है। मास्टरमाइंड आशीष और  रजनीश सतना जिले के निवासी है जबकि विनोद रीवा का रहने वाला हैं।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button