AKS यूनिवर्सिटी को इस कोर्स की मान्यता नहीं

बताया गया कि आईसीएआर ( इंडियन काउंसिल ऑफ एग्रीकल्चर रिसर्च) द्वारा AKS यूनिवर्सिटी को इस कोर्स की मान्यता प्राप्त नहीं है। लिहाजा यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले छात्रों को किसी भी सरकारी कॉलेज में आगे की पढ़ाई के लिए एडमिशन नहीं मिलेगा, अपने भविष्य को लेकर सभी छात्र चिंतित हैं, यूनिवर्सिटी में कृषि संकाय के तकरीबन 1 हजार से ज्यादा छात्र-छात्राएं पढ़ रही हैं और दे दिया धरना वीडियो में देखे छत्रो का विरोध

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Back to top button