सतना के सिंधु स्कूल में ये क्या हो रहा है ? क्या अब सिगरेट पर भी कमीशन बटेगा ! गंभीर आरोप

सतना | अभी तक तो सुना था कि स्कूल के प्रबंधक किताबों और स्कूल की ड्रेसों के विक्रय में कमीशन खाते हैं, पर सतना शहर का रीवा रोड स्थित सिंधु स्कूल इनसे भी आगे निकल गया। प्राप्त जानकारी अनुसार सतना के सिंधु स्कूल के ठीक बगल में एक चाय वाला स्कूल संचालकों की शह में चाय की दुकान की आड़ मे सिगरेट और तंबाकू के पाउच खुले आम बेच रहा है। इस चाय वाले को स्कूल के द्वारा निशुल्क पानी और इसके पूरे परिवार को स्कूल के शौचालय का उपयोग स्कूल बंद होने के बाद भी कराया जाता है। बदले में ये चाय वाला स्कूल के संचलको और कर्मचारियों को निशुल्क चाय उपलब्ध कराता हैं।

सतना के सिंधु स्कूल में ये क्या हो रहा है ?

सतना के सिंधु स्कूल मे चाय बेचने से इसके किसी को तकलीफ नहीं है परंतु इसका चाय की आड़ में सिगरेट और तंबाकू के पाउचो की पुड़िया नई पीढ़ी और सिंधु स्कूल के छात्रों को बिगाड़ रही है। पंद्रह वर्ष के नाबालिग बच्चे स्कूल की छुट्टी के बाद इस दुकानदार से सिगरेट लेकर खुलेआम सिगरेट पीते हुए एक दूसरे को मां बहन की गालियां देते हुए देखे जा सकते हैं। झुंड लगा कर ये लड़के स्कूल के आस पास के दुकानदारों का जीना दूभर किए हुए हैं।

सतना के सिंधु स्कूल के बगल के एक दुकानदार विजय रिजवानी ने जब ये बातें सिंधु स्कूल के मंत्री से कही तो उसे स्कूल प्रबंधक समिति के मंत्री ने कहा की आप स्वयं जागरूक है इसकी शिकायत आप खुद करिए, इस बात पर दुकानदार ने कहा स्कूल के मंत्री आप है और हाईकोर्ट की भी रूलिंग है कि स्कूलों के 200 मीटर तक तंबाकू सिगरेट की बिक्री नही की जा सकती जो कि स्कूलों के बाहर प्रतिबंधित भी है। मंत्री द्वारा सकारात्मक जवाब न मिलने पर स्कूल कमेटी के अध्यक्ष से इस बात की शिकायत की तो उन्होनें कहा हमारा स्कूल है हम खुद समझेंगे आप अपनी दुकान देखो।

विजय रिजवानी का कहना है की इन बातों से प्रतीत होता है कि सतना के सिंधु स्कूल स्वयं शह देकर कमीशन की लालच मे चाय की आड़ में सिगरेट और तंबाकू के पाउच बिकवा कर अपने ही स्कूल के छात्रों का भविष्य बर्बाद कर रहा है।

Satna News : चित्रकूट पहुंचे राज्यपाल, प्रशासनिक अधिकारियों ने की अगवानी

विजय रिजवानी, सामाजिक कार्यकर्ता और व्यापारी सतना
विजय रिजवानी, सामाजिक कार्यकर्ता और व्यापारी सतना

समाजसेवी विजय रिजवानी ने इस मामले पर गंभीर सवाल सतना के सिंधु स्कूल प्रशासन पर खड़े किए हैं उनका कहना है की अगर इसमें सिंधु स्कूल प्रबंधन की सहभागिता इसमें नहीं है तो क्यों बच्चों को इस व्यसन से बचाने के लिए उचित प्रयास किए जा रहे हैं प्रबंधन से बात की और आवेदन देने की बात भी कही पर प्रबंधन के लोग इस मामले पर आगे नहीं आए इससे प्रबंधन की कार्यशैली पर सवाल खड़े हो रहे हैं … विजय रिजवानी, सामाजिक कार्यकर्ता और व्यापारी सतना 

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button