यहाँ फंसे सैकड़ो मजदूर, प्रशासन भी नहीं कर पा रहा मदत

सतना में भी प्रवासी मजदूरों के सब्र का बांध टूटा, बस उपलब्ध न होने से परेशान मजदूरो ने नेशनल हाइवे में जाम लगा दिया, तेज बारिश की बजह से मजदूरो का वो सामन भी भीग गया जिसे बड़े जतन से लेकर हजारो किलोमीटर का सफर तय किया था । ऐसे में आक्रोशित कामगार सड़क पर बैठ गए रास्ता जाम हो गया, परिवहन कंटोल रूम के सामने जमकर हंगामा हुआ, प्रशासन समझाने की कोशिस करता रहा इसके बाबजूद प्रवासी कामगार मानने को तैयार नही हुए

अधिकांश मजदूर झारखंड और उत्तरप्रदेश के है कुछ मजदूर शहडोल और उमरिया के भी है, ये पिछले चार दिनों से सतना में खुले आसमान में डेरा जमाए हुए है। इन मजदूरो का आरोप है कि कोई वाहन नही उपलब्ध हो सका उनका सामान भी भीग गया ,छोटे छोटे नौनिहाल भी तेज बरसात में भीग गए प्रशासन ने न रहने की व्यवस्था की न खाने की, कोई वाहन व्यवस्था नही,जिससे वो घर पहुच सकें । सैकड़ो की तादात में ये मजदूर वाहन की राह ताक रहे है । हालांकि मौके पर पहुची पुलिस और प्रशासम भी इन प्रवासी मजदूरो की मदद से हाथ खींच लिया है जिला प्रशासन का तर्क हैं कि जिले के मजदूरो के लिए वाहन व्यवस्था है, झारखंड और उत्तरप्रदेश के लिए नही बार्डर भी सील है ऐसे में वो कुछ नही कर सकते ।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button