यहाँ कलेक्टर और एसपी ने अपने रिश्तेदारों को बाँटे लाइसेंस ! पढें पूरा मामला

सतना में हुए शस्त्र लाइसेंस के गड़बड़झाले में न केवल अधिकारियों कर्मचारियों पर कानूनी शिकंजा कसा है बल्कि कई ऐसे रसूखदार नेता भी शामिल है जिन्होंने अपने रुतवे का फायदा उठाकर नियम विरुद्ध शस्त्र लाइसेंस बनवाए साथ ही क्षेत्र विस्तार और कारतूसों की संख्या तक बढ़वा ली । अब इस मामले में कानूनी शिकंजा कसता ही जा रहा है ।

एसटीएफ भोपाल सतना में 2004 से 2014 तक जिले में जारी हुए लाइसेंस फर्जीवाड़े की बारीकी से तफ़्तीश कर रही है। गुरूवार को 25 प्रकरणों पर एफ आई आर भी दर्ज हुई और दो कर्मचारी अभयराज सिंह और जुगुल किसोर गर्ग के खिलाफ कूट रचना और आयुध अधिनियम के तहत मामला भी दर्ज किया गया । एसटीएफ ने जो 25 प्रकरण पर एफआईआर दर्ज की उसमे वर्तमान कांग्रेसी विधायक नीलांशू चतुर्वेदी भी शामिल है । एसटीएफ अन्य प्रकरणों की जांच अभी कर रही है ।जिला प्रशासन ने मीडिया की सुर्खियां बनने पर इस पूरे मामले की जांच कराई थी ।आयुक्त रीवा के निर्देश पर अपर कलेक्टर ने जांच की थी । इस जाँच में परत दर परत जालशाजी उजागर हुई ।जांच में तात्कालिक एसपी रहे हरी सिंह यादव ने स्वयं के साथ आधा दर्जन पारिवारिक सदस्यो के नाम पर लाइसेंस बनवाये

सबसे चौकाने वाली बात यह रही कि सभी का पता पुलिस अधीक्षक आवास ही था। इतना ही नही तत्कालीन कलेक्टर सुखबीर सिंह ने भी अपने आवास के पते पर पिता नबाब सिंह के नाम शस्त्र लाइसेंस जारी किए

नागौद राजघराने के क्रान्तिदेव सिंह ने जो पूर्व मंत्री नागेंन्द्र सिंह के अनुज है ,बिना लाइसेंस सरेंडर किये सेमी राइफल ही बेच डाली , जिला प्रशासन की जांच में एक सैकड़ा से ज्यादा लाइसेंस विधि विरुद्ध मिले थे ।खुलासा होने के बाद कई फाइलें लापता हो गई जिसे अब एसटीएफ तलाश रही है ।हालांकि अभी सिर्फ 25 प्रकरणों पर एफआईआर दर्ज हुई है । सतना में हुए शस्त्र लाइसेंस फर्जीबाड़े पर आईजी रीवा की माने तो एसटीएफ पूरे मामले की जांच कर रही और जल्द ही नतीजा सामने आएगा ।
अब इस मामले में भाजपा विधायक ने भी बयान जारी कर मचाई खलबली

मैहर से भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने कांग्रेस विधायक नीलांसू चतुर्बेदी के सुर में सुर मिलाते हुए कहा कि लाइसेंस बनाने और सीमा क्षेत्र के विस्तार का आवेदन देने वाले आवेदकों को दोषी ठहराना गलत है , इस पूरे घोटाले के दोषी सरकारी कर्मचारी है ,उनपर कार्यवाही होनी चाहिए ।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button