झूला बना काल ! खेल में गयी रुद्राक्ष की जान

सतना में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है जहां खेल खेल मे बच्चे की जान चली गई ,13 वर्षीय छात्र अकेले घर के आगन मे पेड़ में रस्सी का झूला बनाकर खेल रहा था तभी झूले की रस्सी फांशी का फंदा जैसे गले मे लटक गई और मासूम की जान चली गई यहाँ बच्चा वेहद होनहार था और जिम्नास्टिक का शौकीन भी था ,पिछले तीन सालों से इसी झूले में खेलता था और एकांत झूले में पठन पाठन भी करता था वही झूला फांसी का फंदा बन गया सतना शहर के बिरला कलोनी में मातम है दरअसल 13 वर्षीय रुद्राक्ष मालबीय नाम को होनहार स्कूली छात्र की असमय मौत हो गई छात्र जिम्नास्टिक करता था और पिता जिम का संचालन करते है रुद्राक्ष घर के आंगन में स्कूल के बाद का ज्यादा समय बिताता था घर के आंगन में लगें आम के पेड़ में रस्सी का झूला डाल रखा था पिछले तीन सालों से मासूम झूले में खेलता कूदता और पढ़ता भी था बीते दिनों रुद्राक्ष झूले में बैठा था ,पिता जिम गए थे और माँ घर के काम मे बिजी थी रुद्राक्ष झूले में ऊपर नीचे चढ़ रहा था अचानक झूला की रस्सी रुद्राक्ष के गले मे फस गई और फांसी लगने से रुद्राक्ष की मौत हो गई रुद्राक्ष झूले में ही लटका रहा और माँ वेफ्रिक खाना खाने के लिए वुलाती रही आखिरकार माँ पास जाकर देखकर चीख पड़ी रुद्राक्ष को पड़ोसियों की मदद से झूले से उतारा गया और अस्पताल लाया गया लेकिन डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया जिस झूले में रुद्राक्ष पिछले तीन सालों से अठखेलियाँ करता था वही झूला मौत का फंदा वन गया पुलिस की तप्तीस में घटना दुर्घटना साबित हुई पुलिस ने अविभावकों से अपील की है कि ऐसी घटनाओं से बचने के लिए मासूमो पर नजर रखे उसे अकेला न छोड़े

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button