चार दशकों से पैसे का इंतजार कर रहा है दमकल अमला

सतना :  प्राकृतिक आपदाओं से निपटने के लिए जिला प्रशासन कितना गंभीर है, इसका अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है की विभिन्न आपदाओं से निपटने के लिए तैनात नगर निगम के फायर ब्रिगेड वाहनों का पिछले 37 सालों से जिला प्रशासन ने भुगतान नहीं किया है यह राशि जिला प्रशासन के आपदा प्रबंधन कोष द्वारा दीया जाना बाकी है। जिसकी कुल राशि 42 लाख से ज्यादा हो चुकी है नगर निगम के दमकल विभाग द्वारा इस बाबत 16 बार पत्र जारी किया जा चुका है लेकिन भुगतान अभी तक नहीं किया गया।

नगर निगम सीमा क्षेत्र के बाहर लगी आग या कोई अन्य प्राकृतिक आपदा में जिला प्रशासन द्वारा दमकल की गाड़ियों को राहत के लिए भेजा जाता है जिसका भुगतान आपदा प्रबंधन कोस से किया जाता है। लेकिन जिला प्रशासन आने वाले संकट को लेकर गंभीर नजर नहीं आता इस बात का सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि नगर निगम का दमकल विभाग पिछले 37 सालों से भुगतान की बाट जो हो रहा है।

जिला प्रशासन की आपदा प्रबंधन कोस से 42 लाख 33 हजार 764 रुपए की राशि का भुगतान अभी तक नहीं किया गया। जिसके लिए 16 बार नगर निगम द्वारा पत्राचार किया जा चुका है। आपको बता दें कि नियमता नगर निगम सीमा क्षेत्र में किसी घटना पर दमकल विभाग के वाहनों का भुगतान नगर निगम द्वारा ही किया जाता है, लेकिन नगर निगम सीमा क्षेत्र के बाहर की घटनाओं में दमकल गाड़ियां जाने पर भुगतान आपदा प्रबंधन कोस से किया जाता है। भुगतान न होने के कारण दमकल विभाग पर अतिरिक्त भार पड़ रहा, जिसके चलते सेवाएं कभी भी ठप पड़ सकती हैं। ऐसे में प्राकृतिक आपदा आने पर समय पर मदद ना मिलने से बड़ी घटना हो सकती है।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button