अमरपाटन विधानसभा से छह बार विधायक बने मंत्री, पढ़िए सीट का इतिहास “चौकन्ना” की कलम से

आलेख, विंध्य के वरिष्ठ पत्रकार अशोक शुक्ला “चौकन्ना” जी की कलम से,

सतना :  जिले के अमरपाटन के बीजेपी विधायक़ रामखिलावन पटेल को शिवराज मंत्रीमंडल मे जगह मिल गई है बसपा छोड़कर बीजेपी मे आये रामखिलावन पटेल 2008 मे कांग्रेस के राजेंद्र सिंह को हराकर पहली बार विधायक बने थे जबकि 2013 मे उन्हे हार का सामना करना पड़ा था लेकिन 2018 मे दूसरी दफे विधायक़ बने रामखिलावन पटेल को अब मंत्री बनाया जा रहा है

अमरपाटन विधानसभा की सीट जिले की एक मात्र ऐसी सीट रही है जहां से निर्वाचित लोगो को अब तक छः बार सरकार मे शामिल होने का मौका मिला है

यहाँ से विधायक चुने गये कांग्रेस के गुलशेर अहमद विधान सभा के स्पीकर वा लाँ मिनिस्टर रहे है बाद मे उन्हे हिमाचल प्रदेश का राज्यपाल भी बनाया गया था 1967 की संविद सरकार मे जनसंघ के विधायक रामहित गुप्ता मंत्री बने थे बाद मे उन्हे 1977 मे कैलाश जोशी के मंत्री मंडल मे शामिल होने का मौका मिला था रामहित गुप्ता 1990 मे तीसरी दफे सुंदरलाल पटवा के मंत्रीमंडल मे वित्तमंत्री बने थे 1993 मे कांग्रेस के विधायक राजेंद्र सिंह को दिग्गी राजा की सरकार मे उद्योग मंत्री बनाया गया था 2013 मे राजेंद्र सिंह को डिप्टी स्पीकर चुना गया था और अब 2018 मे राजेंद्र सिंह को हराकर अमरपाटन से विधायक बने राम खिलावन पटेल को शिवराज मंत्रीमंडल मे शामिल किया जा रहा है ।

सतना के सांसद गणेश सिंह के बेहद करीबी माने जाने वाले अमरपाटन के विधायक रामखिलावन पटेल पहले गणेश सिंह के साथ जनता दल मे थे 2003 मे वे बसपा मे थे 2008 मे वे पहली बार बीजेपी की टिकट पर अमरपाटन से विधायक बने थे । विंध्यप्रदेश के तमाम दिग्गज नेताओं की दावेदारी को दरकिनार करते हुये बीजेपी ने दूसरी बार के विधायक रामखिलावन पटेल को इस कश्मकश भरे दौर मे मंत्री क्यों बनाया है ?
इसका जवाब फिलहाल किसी के पास नही है …आगे नारायण जाने …

ये भी पढ़े :

शिवराज मंत्रिमंडल फाईनल तस्वीर सतना न्यूज़ पर सबसे पहले

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button