”अंर्तराष्ट्रीय बालिका दिवस“ पर कार्यक्रम संपन्न

सतना 11 अक्टूबर 2020/जिला प्रशासन एवं महिला बाल विकास विभाग द्वारा अंर्तराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना अंतर्गत रविवार को टाउन हाल बस स्टैण्ड में बिटिया उत्सव समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में प्रतिभाशाली बालिकाओं को सम्मानित करने के साथ ही विविध कार्यक्रम आयोजित किए गए।


अंर्तराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा ने कहा कि जीवन में कुछ करने के लिए इच्छाशक्ति से अपने आप को तैयार करें। कोई भी काम करने से पीछे नही हटें, समय का सही उपयोग करें, अपने बच्चों को वही शिक्षा दें जिसके लिए वो तैयार हों। पंख जरूरत के लिए प्रेरित करता है इसलिए अपनी बेटियों को हौसलों का पंख दें। उन्हें आगें बढ़ने के लिए आत्मविश्वास पैदा करें। बेटियों के मन में भय पैदा नहीं करें, बल्कि उनको आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करें। अपने घर परिवार को बेटियों से सजाएं। इसके लिए सभी का सहयोग करें। अपने आप को सुरक्षित रखें। जिला, प्रदेश एवं देश को गौरवान्वित करें। जिला पंचायत अध्यक्ष सुधा सिंह ने कहा कि आज बेटियों की प्रतिभायें उजागर हो रहीं हैं। बेटियां पूज्यनीय एवं देवियों का स्वरूप हैं। बेटियां अब माता, पिता एवं समाज के लिए भार नहीं हैं। बेटियों को आगे बढ़ने, पढ़ने के अलावा सभी क्षेत्रों में अग्रसर करने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न कल्याणकारी योजनाएं लागू की गई हैं। समाज में बदलाव एवं जागरूकता आई है। बेटियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।

उमेश प्रताप सिंह ने कहा कि बेटियां परी एवं देवीशक्ति का रूप है। आज महिलायें हर क्षेत्र में बढ़चढ़ कर अपनी सहभागिता निभा रहीं है। समाज में बेटियों का सम्मान बढ़ा है तथा बेटियां हमारा भविष्य हैं। जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास सौरभ सिंह ने बालिका दिवस की बधाई देते हुए कहा कि हमारे देश में लिंगानुपात असमान है। बेटियों की संख्या घट रही है, बेटा-बेटी को समान दर्जा दें। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं अभियान को जन आंदोलन बनाएं। बेटियों को सुअवसर प्रदान करें। उन्होने बताया कि कक्षा 10वीं एवं 12वीं की प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त करने वाली 103 छात्राओं को आज सम्मानित किया जा रहा है। इन छात्राओं के खाते में क्रमशः 15000, 10000, 7500, 5000 एवं 2000 रूपये की राशि जमा कराई गई है। छात्रा कु.श्रेया त्रिपाठी ने कन्या भू्रण हत्या एक अपराध है विषय पर अपने विचार व्यक्त किए।

कार्यक्रम में कु.अंशुता मिश्रा द्वारा गणेश वंदना, काव्या तिवारी द्वारा कत्थक नृत्य, छात्राओं द्वारा सामूहिक नृत्य, उत्तर सिंह चौहान द्वारा बेटियों पर आधारित गीत का गायन एवं छात्राओं द्वारा मार्शल आर्ट, कराते का प्रदर्शन किया गया। अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। अतिथिद्वय द्वारा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की ब्रांड एम्बेसडर विशेषता सिंह, गार्गी सिंह परिहार, कीर्ति कुशवाहा को स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त करने वाली कक्षा 10वीं की 50 छात्राओं एवं कक्षा 12वीं की 53 छात्राओं सहित कुल 103 छात्राओं को प्रमाण-पत्र एवं स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया गया।

इस मौके पर भाजपा जिलाध्यक्ष नरेन्द त्रिपाठी, समाजसेवी गणेश त्रिवेदी, सहायक संचालक शिक्षा एनके सिंह, श्याम किशोर द्विवेदी, अरूणेश तिवारी, सीडीपीओ संजय उरमलिया सहित विभागीय अधिकारी, कर्मचारी, छात्र, छात्राएं, अभिभावक एवं महिलाएं उपस्थित रहीं। कार्यक्रम का सफल संचालन कमला पाण्डेय तथा खुशबु प्रजापति द्वारा किया गया।

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button