Bahuti Nahar Project: लम्बे इंतजार के बाद आखिर बन गयी सुरंग, विंध्य की धरती बनेगी पंजाब, 65 हज़ार हेक्टेयर जमीन की होगी सिचाई

Bahuti Nahar Project: बाणसागर(Bansagar) बहुउद्देशीय सिंचाई परियोजना के तहत नहर परियोजना की सबसे महत्वपूर्ण छोटी सुरंग(Tunnel) का निर्माण कार्य(Construction Work) लगभग पूरा होने वाला है. बाणसागर बांध पानी से लबालब है। इसके बाद भी विंध्य की कई धाराएं पानी(Water) के लिए तरस रही हैं। आज भी किसान(Farmer) उन खेतों में मोटे फसलों को छोड़कर अपर्याप्त उत्पादन को लेकर चिंतित हैं जहां उन तक पानी नहीं पहुंचता है। एक माह के अंदर नहरों में पानी आना शुरू हो जाएगा। किसान के खेत को ऊंचा किया जाएगा। 

टनल बनकर तैयार है

Bahuti Nahar Project: जानकारी के अनुसार बहूटी नहर परियोजना में पानी पहुंचाने के लिए छुहिया घाटी के गोविंदगढ़ में बनाई गई जल सुरंग का निर्माण शनिवार को पूरा हो गया. ऐसे में माना जा रहा है कि एक माह के भीतर नहर में पानी छोड़ दिया जाएगा। ऐसे में माना जा रहा है कि नए साल की शुरुआत में ही किसानों के खेतों में पानी पहुंच जाएगा।

Bahuti Nahar Project: लम्बे इंतजार के बाद आखिर बन गयी सुरंग, विंध्य की धरती बनेगी पंजाब, 65 हज़ार हेक्टेयर जमीन की होगी सिचाई
Photo By Google

रीवा और सतना जिलों को होगा फायदा

Bahuti Nahar Project: इस महत्वपूर्ण सिंचाई परियोजना से रीवा और सतना जिले की कई तहसीलों के किसानों को पानी मिलेगा. जानकारी के अनुसार रीवा की 5 और सतना की 2 तहसीलों में पानी जाएगा. करीब 65 हजार हेक्टेयर भूमि सिंचित होगी। सीधे तौर पर देखा जाए तो 3 लाख से ज्यादा किसान अपने खेतों में सिंचाई कर सकेंगे।

Bahuti Nahar Project: लम्बे इंतजार के बाद आखिर बन गयी सुरंग, विंध्य की धरती बनेगी पंजाब, 65 हज़ार हेक्टेयर जमीन की होगी सिचाई
Photo By Google

डेढ़ लाख एकड़ में पानी पहुंच गया है

Bahuti Nahar Project: बाणसागर बांध से रीवा जिले की करीब डेढ़ लाख एकड़ कृषि भूमि में सोन नदी का पानी पहुंच रहा है. 387 हजार एकड़ खेतों में अभी तक पानी नहीं पहुंचा है। इसके लिए मध्यप्रदेश सरकार केंद्र सरकार के सहयोग से हर स्तर पर काम कर रही है। रीवा जिले के नईगढ़ी व मऊगंज तहसील क्षेत्र में बाणसागर का पानी नहीं पहुंच रहा है. तीथोर और बहूती नहरों का निर्माण किया जा रहा है।

Rewa News: सुरंग का निर्माण हुआ पूरा, अब विंध्य की प्यासी धरती को मिलेगा पानी, 65000 हेक्टेयर जमीन की होगी सिंचाई
Photo By Google

इसे भी पढ़े-Mohania Ghati Turnal: मोहनिया टर्नल में आवा-जाही हो गयी शुरू, लुफ्त लीजिये इस खूबसूरत सफर का

कठिन मेहनत से पूरा हुआ

Bahuti Nahar Project: इस परियोजना में सुरंग का निर्माण बेहद कठिन था। क्योंकि छुहिया घाटी की पहाड़ियाँ कठोर चट्टान और मिट्टी से बनी हैं। स्थलाकृति को ध्यान में रखते हुए, अत्याधुनिक बूमर मशीनों का उपयोग करके सुरक्षित रूप से सुरंग का निर्माण किया गया है। सुरंगों सहित 90 से अधिक नहरें पूरी हो चुकी हैं। बाकी का काम जल्द पूरा कर लिया जाएगा और नए साल की शुरुआत में किसानों के खेतों में पानी पहुंचाया जाएगा।

Article By Sunil

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please off your adblocker and support us