APS University : डिप्टी रजिस्ट्रार को सेवानिवृत्ति पर जूते की माला पहनाने के मामले में जांच के आदेश

Rewa News In Hindi : APS University रीवा के डिप्टी रजिस्ट्रार को उनकी सेवानिवृत्ति होने पर उन्हें जूते की माला भेंट करने के मामले को उच्च शिक्षा विभाग (Higher Education Department) ने संज्ञान में लेते हुए संभागायुक्त को जांच के आदेश दिए है। बता दें कि दो दिन पहले अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय (APS University) में आयोजित हुए नौवें दीक्षांत समारोह में शामिल होने कुलाधिपति व प्रदेश के राज्यपाल मंगू भाई पटेल आए थे। उसी दिन उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव के सामने विश्वविद्यालय के अधिका​रियों ने 30 नवंबर की घटना का जिक्र किया था।

APS University

दरअसल कर्मचारी यूनियन के अध्यक्ष बुद्धसेन पटेल ने उप कुल​सचिव डॉ.लाल साहब सिंह पर कर्मचारी विरोधी होने का आरोप लगाया था। इसी वजह से विदाई समारोह में कोई भी कर्मचारी संगठन शामिल नही हुआ था। वहीं दूसरी तरफ 30 नवंबर को कुलपति कक्ष से निकलते समय डिप्टी रजिस्ट्रार को बुद्धसेन पटेल ने उन्हें जूते की माला पहनाने की कोशिश की थी। लेकिन डिप्टी रजिस्ट्रार धन्यवाद कहकर आगे बढ़ गए थे। वीडियो वायरल होने के बाद इस व्यवहार की हर तरफ निंदा हो रही थीं

APS University मामले पर भोपाल पहुंचते ही एक्शन

गौरतलब है कि उच्च शिक्षा मंत्री सोमवार को रीवा प्रवास पर थे ।मामले की जानकारी होने पर उच्च शिक्षा मंत्री ने नाराजगी जाहिर करते हुए इस कृत्य की निंदा की थी और कहा था कि विश्वविद्यालय के अंदर इस तरह की घटनाएं होना अशोभनीय है। वो भी तब जब एक कर्मचारी सेवानिवृत्त हो रहा हो ।  मंगलवार सुबह भोपाल पहुंचकर उच्च शिक्षा मंत्री मंत्रालय पहुंचे। जहां रीवा के APS University मामले में एक्शन लेते हुए जांच करा कर संबंधित कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए है।

संभागायुक्त को जांच के आदेश
उच्च शिक्षा विभाग की अपर सचिव वीरन सिंह भलावी ने रीवा संभागायुक्त को पत्र लिखा है। कहा है कि 2 दिसंबर को मप्र राज्य विश्वविद्यालय सेवा अधिकारी संघ ने ज्ञापन दिया था। ज्ञापन पढ़ने पर पता चला कि APS University उप कुल​सचिव लाल साहब सिंह के सेवानिवृत्त के अवसर पर विदाई समारोह के दौरान कतिपय कर्मचारियों ने असभ्य एवं अशोभनीय व्यवहार किया था।

पूरे घटना क्रम की जांच कर संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों अन्य व्यक्तियों के विरूद्ध नियमानुसार व अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाए। साथ की कार्यवाही की जानकारी विभाग को उपलब्ध कराई जाए। पत्र की कापी राज्यपाल सचिवालय, रीवा कलेक्टर, कुलपति APS University, कुलसचिव APS University और मप्र राज्य विश्वविद्यालय सेवा अधिकारी संघ के मुख्यालय को भेजी गई है।

यह भी पढें : 1 रुपए लगाकर पाइए 2 लाख का फायदा, पढिये सरकार की यह शानदार स्कीम

सतना न्यूज डेस्क

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button