Rewa : लोकायुक्त टीम ने रिश्वतखोर सचिव को 15 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा

Rewa News In Hindi : रीवा लोकायुक्त दस्ते ने एक भ्रष्ट सचिव को घूसखोरी करते रंगेहाथ पकड़ा है। आपको बता दें की रिश्वखोर सचिव मऊगंज तहसील के महुगड़ा ग्राम पंचायत का है जिसे 15 हजार रुपये की रिश्वत लेते पकड़ा गया है. आरोप है कि नए पुल के निर्माण का बिल देने के बदले पैसे की मांग की गई थी. रिश्वत नहीं मिलने पर सचिव पेमेंट करने में आनाकानी कर रहा था । ऐसे में पीड़ित सचिव की शिकायत लेकर लोकायुक्त एसपी Rewa के पास पहुंचा था .

Rewa लोकायुक्त टीम की कार्यवाही में रंगे हाथ पकड़ा गया आरोपी

शिकायत लोकायुक्त एसपी के पास पहुंची तो सबदे पहले इसके पीछे की सच्चाई पता लगाने के लिए जांच की गयी , और जांच में पीड़ित के सचिव के खिलाफ लगाए जा रहे आरोप सही पाए गए । ऐसे में लोकायुक्त टीम ने रिश्वतखोर सचिव को रंगे हाथ पकड़ने की योजना बनाई और मंगलवार दोपहर वह Rewa शहर के चमड़िया पेट्रोल पंप के पास 15 हजार रुपये की रिश्वत लेते सचिव को पकड़ लिया गया . आगे की कार्यवाही के लिए लोकायुक्त दल सचिव को लेकर विश्राम गृह पहुंच गया है. आरोपी सचिव के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

रीवा (Rewa) लोकायुक्त एसपी गोपाल सिंह धाकड़ ने बताया कि आरोपी सचिव रवींद्र पटेल के पुत्र इंद्रमणि पटेल (29) महुगड़ा पोस्ट कुलबहेलिया तहसील थाना मऊगंज को मंगलवार दोपहर 12 बजे से 1 बजे के बीच 15 हजार रुपये की रिश्वत के साथ पकड़ा गया. शिकायतकर्ता जितेंद्र तिवारी के पुत्र दयाशंकर तिवारी ने कुछ दिन पूर्व तिवारी गांव स्थित महुगड़ा पोस्ट कुलबहेलिया तहसील थाना मऊगंज के एसपी कार्यालय पहुंचकर उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराईथी .

पीड़ित के अनुसार रवेंद्र पटेल, पोस्ट रोजगार सहायक, वित्तीय प्रभार महुगड़ा सचिव, जनपद पंचायत मऊगंज , नए पुल के निर्माण के बिल का भुगतान करने के बदले पैसे की मांग कर रहे हैं. इस मामले में एसपी से शिकायत की गयी थी

मंगलवार को पीड़ित 15 हजार रुपये लेकर आरोपी सचिव द्वारा बताए स्थान चमड़िया पेट्रोल पम्प के पास पहुंचा और उसने आरोपी को वह पसे दिए तो दूसरी तरफ टीम बनाकर पहले से तैयार लोकायुक्त के सादी वर्दी वाले दल ने आरोपी सचिव को रंगे हाथ धर दबोचा

यह भी पढ़ें : 5 हजार में शुरू करे ये बिजनेस, होगी लाखों की कमाई

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button