रीवा में कोरोना संक्रमित का गाँव मे दाना पानी बंद !

शशिकान्त कुशवाहा

रीवा : कोरोना का मरीज होंना एक गरीब मजदूर के परिवार पर भारी पड़ गया । कोरोना वायरस के संक्रमण से संक्रमित होने वाले व्यक्ति को इसका खामियाजा भूखे प्यासे रह कर चुकाना पड़ रहा । कोरोना महामारी का कहर यु तो पूरी दुनिया ने देख लिया । एक तरफ जहाँ महाशक्ति कहे जाने वाले देशों में कहर बनकर टूटा यह वायरस महाशक्ति को झुकने पर मजबूर कर दिया वहीं भारत देश मे संक्रमण के मामले देश भर में लाखों में है पर लोग बीमारी के साथ साथ संक्रमित लोगों के साथ भेदभाव करते नजर आ रहे हैं ।ऐसा ही एक मामला रीवा जिले का जहाँ पूरा गाँव संक्रमित व्यक्ति के परिवार से भेदभाव कर रहा ।

क्या है मामला

रीवा जिले के कटरा निवासी राकेश ( बदला हुआ नाम ) मुंबई से लौटने के बाद में क्वारन्टीन सेंटर रखा गया था पर कुछ दिन बाद तबीयत खराब होने के उपरांत प्रशासन ने व्यक्ति की जांच कराई जिसमे की व्यक्ति के कोरोना वायरस के संक्रमण होने की पुष्टि हुई । मिली जानकारी के अनुसार संक्रमित व्यक्ति के परिवार के लोग क्वारन्टीन सेंटर पर मिलने गए । जिसके बाद घर के लोगों को आइसोलेट किया गया था । फोन पर बातचीत के दौरान बबलू के परिवार की सदस्य ने बताया कि गाँव के लोग हम लोग से भेदभाव करने लगे हैं दुकानदार खाने पीने की सामग्री नही देते , वहीं दूसरी तरफ गाँव के नल से पीने का पानी भी नही भरने दिया जाता है । साथ ही यह भी कहा कि हम लोग गरीब हैं हमारे पास खाने की सामग्री नही है पंचायत व प्रशासन की तरफ से कोई मदद नही मिल रही ।

सरपंच से बातचीत के उपरांत परिवार को मिली थोड़ी राहत

जानकारी प्राप्त होने के उपरांत संबंधित मामले में कटरा के सरपंच से फोन पर बातचीत की गई जिसके बाद कटरा सरपंच की तरफ से पीड़ित परिवार को तत्काल 5किलोग्राम आटा 3 किलोग्राम चावल 1 किलोग्राम दाम नमक तेल मुहैया कराया गया ।

बहरहाल इस मामले में जिस तरह से एक गरीब परिवार के लोगों के साथ भेदभाव किया जा रहा है वह मानवता को शर्मसार करने वाली घटना है ।अब देखने वाली बात होगी कि जिले के जिम्मेदार लोगों की नजरें आखिर कब तक इस तरह की समस्याओं से ग्रषित परिवार पर पड़ेगी ।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button