मां की इच्छा पूरी करने को जीता गोल्ड, पर मैडल देखने को नहीं मां

भिवानी के बाक्सर ने कर्नाटक चैंपियनशिप में जीता गोल्ड मां के चरणों की बजाए तस्वीर पर चढ़ाया मैडल

भिवानी, 24 सितम्बर । मिनी क्यूबा भिवानी के लाल ने नेशनल चैंपियनशिप में अपनी मां के लिए गोल्ड जीता, पर जब घर पहुंचा तो मां ही नहीं मिली। गोल्ड की ख़ुशियां मातम में बदल गई और मजबूरन आकाश को अपना गोल्ड मां के चरणों की बजाय मां की फोटो पर चढ़ाना पड़ा।

हाल ही में कर्नाटक में नेशनल बॉक्सिंग सर्विसेज़ टूर्नामेंट हुए थे। जिनमें भिवानी के गांव पालुवास निवासी 20 वर्षीय बाक्सर आकाश 13 सितम्बर को 54 किलोग्राम भारवर्ग में भाग लेने के लिए अपनी बीमार मां संतोष को अस्पताल में छोड़ कर रवाना हुआ। 14 सितम्बर से ये टूर्नामेंट शुरू हुई और आकाश ने एक के बाद एक मुकाबला जीत कर 21 सितंबर को गोल्ड मैडल हासिल किया। गोल्ड मिलते ही आकाश ये मैडल अपनी मां के चरणों में भेंट करने के लिए घर को दौड़ा। 22 सितम्बर की शाम आकाश गांव पहुंचा।

घर आते समय आकाश की खुशियों का ठिकाना नहीं था, पर घर पहुंचते ही सारी ख़ुशियां मातम में बदल गई। जब आकाश को घर पर मां ही नहीं मिली। आकाश की मां की मौत 14 सितम्बर की रात को ही हो चुकी थी, लेकिन परिजनों के कहने पर कोच ने भी आकाश को ये जानकारी नहीं दी।

आकाश ने बताया कि उसकी मां ने उसके गोल्ड लाने को लेकर बहुत संघर्ष व मेहनत की थी। अपनी मां के इस संघर्ष के कारण ही वो गोल्ड मैडल जीत पाया। आकाश ने कहा कि उसकी मां ने कहा था कि वो गोल्ड मैडल देखना चाहती है। आकाश ने बताया कि अब वो अगले महीने सर्बिया में आयोजित वर्ल्ड चैंपियनशिप की तैयारी कर रहा है और उसके बाद कॉमनवेल्थ व एशियन तथा एक दिन ओलंपिक में गोल्ड जीतकर अपनी मां का सपना पूरा करेगा। वहीं आकाश के चाचा भंवर सिंह ने बताया कि आकाश को इसकी मां की मौत की सूचना इसके भविष्य को देखते हुए नहीं दी। वहीं उनके कहने पर कोच ने भी बात मानी और आकाश व उसके साथी बॉक्सरों के फोन जमा कर लिए थे। उन्होंने बताया कि आकाश के पिता की मौत साल 2008 में हो चुकी है। चाचा ने कहा कि आकाश मे अपनी मां के सपने को पूरा किया, लेकिन उसकी मां का गोल्ड देखने का सपना पूरा नहीं हो सका।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button