महंत नरेंद्र गिरि मामला : सीबीआई हासिल करना चाहती है वो वीडियो, तीनो आरोपियों की मांगी रिमांड

मुख्य आरोपित स्वामी आनन्द गिरी, बड़े हनुमान मंदिर के पुजारी रहे आद्या तिवारी और पुजारी के बेटे संदीप तिवारी को कस्टडी रिमांड लेकर मामले में पूछताछ करेंगी। इसके साथ कथित आत्महत्या मामले से जुड़े कुछ साक्ष्य जुटाएगी। महंत ने जिस फर्जी वीडिओ की चर्चा की है। उसे हासिल करने तथा घटना से सम्बन्धित अन्य अनसुलझे सवालों का जवाब लेगी।

महंत नरेंद्र गिरि मामला

प्रयागराज, 27 सितम्बर । महंत नरेंद्र गिरि की मौत के मामले में अब सीबीआई ने मुख्य आरोपी स्वामी आनंद गिरि बड़े हनुमान मंदिर के पुजारी आद्या तिवारी और पुजारी के बेटे संदीप तिवारी की रिमांड मांगी है जानकार बताते हैं कि सीबीआई इन सभी आरोपियों से पूछताछ इस लिहाज से भी करना चाहती है कि महंत ने जिस फर्जी वीडियो की चर्चा की है उसे किसी तरह से सीबीआई हासिल कर ले ताकि स्वर्गीय महेंद्र गिरी की मौत के राज से पर्दा उठाया जा सके इस संबंध में सीबीआई ने सीजेएम कोर्ट प्रयागराज में याचिका दाखिल की है मुख्य जांच अधिकारी केएस नेगी चाहते हैं कि 10 दिन की आरोपियों की रिमांड उन्हें मिल जाए

केन्द्रीय जांच ब्यूरो की टीम स्वर्गीय महंत नरेन्द्र गिरी की मौत मामले के मुख्य आरोपित स्वामी आनन्द गिरी, बड़े हनुमान मंदिर के पुजारी रहे आद्या तिवारी और पुजारी के बेटे संदीप तिवारी को कस्टडी रिमांड लेकर मामले में पूछताछ करेंगी। इसके साथ कथित आत्महत्या मामले से जुड़े कुछ साक्ष्य जुटाएगी। महंत ने जिस फर्जी वीडिओ की चर्चा की है। उसे हासिल करने तथा घटना से सम्बन्धित अन्य अनसुलझे सवालों का जवाब लेगी।

गौरतलब है कि महंत नरेन्द्र गिरी की मौत के बाद तीनों आरोपितों को गिरफ्तार करके पुलिस ने न्यायिक मजिस्ट्रेट के यहां पेश किया था। जहां से न्यायालय ने तीनों को 14 दिन के लिए न्यायिक हिराशत में जेल भेज दिया है।

सीजेएम कोर्ट में सीबीआई की ओर से दखिल याचिका की सुनवाई सोमवार दोपहर सुनवाई हो सकती है। ऐसा माना जा रहा है कि आनन्द गिरी के अधिवक्ता विरोध भी करेंगे।

बतादें कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेन्द्र गिरी 20 सितम्बर श्री बाघम्बरी गद्दी के ग्राउंड फ्लोर पर स्थित कमरे में मृत पाये गए थे। 22 सितम्बर को उनके पार्थिव शरीर को अन्त्य परीक्षण के बाद सन्त परम्परा के अनुसार दी गई। साधु सन्तु की मांग पर मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ की संस्तुति के बाद सीबीआई ने मामले की जांच शुरू कर दी है। रविवार को सीबीआई ने सीएफएसएल के फारेंसिक एक्सपर्ट टीम के साथ क्राइम सीन रिक्रिएशन एवं पूरे मठ की फोटो ग्राफी एवं वीडियों ग्राफी किया।

यह भी पढ़े : क्या महंत ‘हनी ट्रैप’ का शिकार तो नहीं हो गए ? सीबीआई को तलाशने है कई जबाब

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button