कानपुर में छह बलॉक प्रमुख पदों पर भाजपा और सपा में टक्कर, चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था

बसपा ने अबकी बार नहीं उतारा उम्मीदवार, चार ब्लॉक प्रमुख हो चुके हैं निर्विरोध

कानपुर, 10 जुलाई । उत्तर प्रदेश के त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के बाद जिला पंचायत अध्यक्षों का चुनाव संपन्न कराया गया। इसके बाद अब ब्लॉक प्रमुख पदों की चुनावी प्रक्रिया चल रही है। दोपहर 11 बजे से शुरु हुई मतदान प्रक्रिया अब लगभग खत्म होने की कगार पर है और बिल्हौर में बड़ी चूक के बाद प्रशासन सख्त हो गया। जनपद के छह ब्लॉक प्रमुख के पदों पर चुनाव हो रहा है और चार ब्लॉक प्रमुख पहले ही निर्विरोध चुने जा चुके हैं।

कानपुर नगर जनपद के ग्रामीण अंचल में 10 ब्लॉक हैं और इनमें ब्लॉक प्रमुख पद पर काबिज होने के लिए सत्ताधारी पार्टी भाजपा और सपा में सीधी टक्कर दिख रही है। क्योंकि इस बार बसपा चुनाव मैदान में ही नहीं है। इन सभी छह सीटों पर दोपहर 11 बजे से कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान प्रक्रिया शुरु हुई जो अब खत्म होने की कगार पर है। बिल्हौर में प्रशासनिक चूक के बाद पुलिस और प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किया है, किसी भी व्यक्ति को बिना अनुमति के खण्ड विकास कार्यालय पर नहीं जाने दिया जा रहा है। इन छह सीटों पर 446 सदस्य मतदान कर ब्लॉक प्रमुखों को चुनेंगे, हालांकि मतदान के बाद मतगणना का कार्य प्रारंभ होगा।

इन ब्लॉकों में निर्विरोध हो चुके हैं प्रमुख

बताते चलें कि नामांकन वापसी के बाद अब ब्लाक प्रमुख चुनाव में भाजपा ने शिवराजपुर में शुभम वाजपेयी, कल्याणपुर में अनुराधा अवस्थी, घाटमपुर में इंद्रजीत सिंह और बिधनू में अरुण कुमार को निर्विरोध निर्वाचित करा लिया। शिवराजपुर में सपा ने जिस भाजपा के बागी को टिकट दिया था, वह नामांकन कराने ही नहीं पहुंचे थे।

446 मतदाता कर रहें मतदान

जनपद में चार ब्लॉक प्रमुख निर्विरोध चुने जाने के बाद शनिवार को छह ब्लॉक प्रमुख पदों के लिए मतदान हो रहा है। इनमें सरसौल, पतारा, चौबेपुर, भीतरगांव, ककवन और बिल्हौर ब्लॉक हैं। पतारा में निर्दलीय उम्मीदवार के रुप में नामांकन करने वालीं प्रियंका ने नाम वापस ले लिया। यहां भी अब सपा और भाजपा के उम्मीदवार ही मैदान में हैं।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button