दिवाली पर झाड़ू खरीदने का क्या है संबंध ? क्यों माना जाता है शुभ, पढ़िए रोचक जानकारी

What is the relation of buying a broom on Diwali? Why is it considered auspicious, read interesting information

दिवाली को लेकर काफी चर्चा है। जहां दिवाली खुशी और उत्साह लेकर आती है। इसलिए दिवाली में खरीदारी करना बहुत शुभ माना जाता है।

दिवाली में लोग बहुत सारे घर, आभूषण आदि खरीदते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि दिवाली में झाड़ू खरीदना भी शुभ माना जाता है।

मान्यता के अनुसार दीपावली के दिन झाड़ू खरीदकर पूजा के अगले दिन से ही प्रयोग में लाना चाहिए। झाड़ू का सही इस्तेमाल जीवन में कई तरह की समस्याओं को दूर करता है,

क्योंकि इससे जुड़ी कई मान्यताएं हैं.कहा जाता है कि झाड़ू का अपमान करने से मां लक्ष्मी का अपमान होता है. इसलिए जब भी झाडू पैरों पर पड़े तो उसे छुआ जाता है।

आइए एक नजर डालते हैं झाड़ू से जुड़ी कुछ ऐसी धार्मिक मान्यताओं पर जो जानने के लिए बेहद खास हैं-

कहा जाता है कि झाड़ू में धन की देवी लक्ष्मी का वास होता है, ऐसे में दिवाली के दिन अगर लक्ष्मी स्थायी रूप से निवास करती है तो शुभ मुहूर्त में मंदिर में झाड़ू दान कर देना चाहिए.

दिवाली एक ऐसा त्योहार है जहां आप किसी भी दिन झाड़ू खरीद सकते हैं, नहीं तो शनिवार के दिन झाड़ू लेना मना है। क्योंकि शनिवार के दिन झाडू खरीदना अशुभ माना जाता है।

इतना ही नहीं अगर आप नए घर में प्रवेश करते हैं तो झाड़ू लेकर ही घर में प्रवेश करना चाहिए।

कहा जाता है कि झाड़ू को खुले में खुला रखना अशुभ माना जाता है। घर के मुख्य द्वार से झाड़ू को कभी कोई नहीं देखेगा। यदि झाडू का प्रयोग नहीं किया जाता है तो उसे आंखों के सामने न रखें, इतना ही नहीं झाड़ू को उत्तर दिशा में छिपाकर रखना चाहिए

 पूजा घर, भण्डार और शयन कक्ष में कभी भी झाडू नहीं रखना चाहिए। बेडरूम में झाड़ू लगाने से दाम्पत्य जीवन में परेशानी आती है।

इसके साथ ही झाड़ू कभी भी खड़ी नहीं होनी चाहिए। लंबे समय से उपयोग में लाई जा रही झाडू को घर के अंदर नहीं रखना चाहिए। आपको इसके बजाय एक नई झाड़ू लाना है।

झाडू को कभी भी पैर से पार नहीं करना चाहिए, झाडू को कभी नहीं जलाना चाहिए, यह माता लक्ष्मी का अपमान है। यानी झाड़ू का किसी भी तरह से अपमान नहीं करना चाहिए.

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button