मुख्यमंत्री शिवराज का पलटवार कहा मैं विकास के काम करता हू तो नारियल फोड़ता हूं

शिवराज नारियल जेब में ही लेकर घूमता है। मैं विकास के काम करता हूं, तो नारियल फोड़ता हूं। कमलनाथ जी की तरह पैसे के अभाव का रोना थोड़े ही रोता हूं। खंडवा और निमाड़ क्षेत्र में खेतों तक सिंचाई के लिए पानी की व्यवस्था का जो जाल बिछा है, उसके एकमात्र सूत्रधार हैं हम सभी के प्यारे नंदकुमार सिंह चौहान "नंदू भैया।

भोपाल, 21 अक्टूबर (हि.स.)। कांग्रेस केवल अनर्गल बातें कर रही है। वे मुझे एक्टर कह रहे हैं। मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि ये एक्टर ही सारे निमाड़ में पानी लेकर जा रहा है। कांग्रेसी अपने नेताओं से पूछें कि उनकी सरकार थी, उनके नेताओं ने क्या किया है? उक्त बातें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कही हैं, मुख्यमंत्री चौहान गुरुवार को खंडवा संसदीय क्षेत्र के ग्राम छैगांव माखन में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि कांग्रेसी कहते हैं कि शिवराज नारियल जेब में ही लेकर घूमता है। मैं विकास के काम करता हूं, तो नारियल फोड़ता हूं। कमलनाथ जी की तरह पैसे के अभाव का रोना थोड़े ही रोता हूं। खंडवा और निमाड़ क्षेत्र में खेतों तक सिंचाई के लिए पानी की व्यवस्था का जो जाल बिछा है, उसके एकमात्र सूत्रधार हैं हम सभी के प्यारे नंदकुमार सिंह चौहान “नंदू भैया। जनता को पानी चाहिए, विकास चाहिए और गरीब कल्याण की योजनाएं चाहिए, लेकिन कमलनाथ बात करते हैं भाजपा की महिला नेत्रियों की। कमलनाथ तो हर बात पर पैसे का रोना रोते रहे, कोई विकास कार्य नहीं किया। हमने कोरोना की दोनों लहर में 8 महीने तक प्रदेश में गतिविधियां ठप होने के बावजूद विकास के काम पर आंच नहीं आने दी, जबकि खजाने में एक भी रुपया नहीं आया।

शिवराज का कमलनाथ पर पलटवार, कफ़न के 5 हजार रुपए छीन लिए कन्यादान के 51 हजार नहीं दिए झूठा मैं कि कमलनाथ

उन्होंने कहा कि कांग्रेसी डोकरा, डोकरिया, एक्टर और डायरेक्टर जैसी निरर्थक बातें कर रहे हैं। क्या ये जनता के कल्याण के मुद्दे हैं? कमलनाथ जी कहते हैं कि शिवराज जेब में नारियल लेकर घूमता है और जहां-तहां फोड़ता रहता है। मैं विकास के काम करता हूं, तो नारियल फोड़ता हूं, उनकी तरह पैसा के अभाव का रोना नहीं रोता हूं। कमलनाथ जी ने किसानों को कर्जमाफी के नाम पर डिफाल्टर बना दिया, बेरोजगारी भत्ता के नाम पर युवाओं को छला और विवाह योजना का भी उनका पैसा नहीं आया, बेटियों की गोद में भांजे-भांजी आ गये।

कमलनाथ जी मुंगेरीलाल हो गए हैं वे दिन में भी सपने देखते हैं – विष्णुदत्त शर्मा

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना काल में स्ट्रीट वेंडर्स को परेशानी हुई। हमारी सरकार उन्हें बिना ब्याज के बैंकों से 10 हजार रुपये तक का ऋण दिलाएगी। ब्याज की राशि का भुगतान हमारी सरकार करेगी। हमने 2018 में तय किया कि पोषण आहार बहनें बनायेंगी, ताकि इनकी आमदनी बढ़ सके, लेकिन सत्ता में आते ही कमलनाथ ने इसे ठेकेदारों को दे दिया। मैंने सरकार बनते ही फिर तय कर दिया कि पोषण आहार तो हमारी बहनें ही बनायेंगी। आप सबसे निवेदन करने आया हूं कि भारतीय जनता पार्टी को अपना आशीर्वाद देकर ज्ञानेश्वर पाटिल को भारी मतों से विजयी बनाइये और विकास एवं जनकल्याण की जिम्मेदारी मुझ पर छोड़ दीजिये।

शिवराज सिंह के कान में अब घंटी बजाने की जरूरत है : अजय सिंह

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button