OBC आरक्षण को लेकर बीजेपी का बड़ा हमला

MP News In Hindi: कांग्रेस का पिछड़ा वर्ग विरोधी चेहरा एक बार नहीं, बल्कि कई बार सामने आ चुका है। चाहे OBC के लिए 27 प्रतिशत आरक्षण वाली बात हो या पंचायत चुनाव में आरक्षण (Reservation in Panchayat elections) मुद्दा, प्रदेश की जनता और पिछड़ा वर्ग (OBC) के लोग यह भली भांति जान चुके हैं कि कांग्रेस की दिलचस्पी सिर्फ उनका राजनीतिक इस्तेमाल करने में हैं, उनके कल्याण में नहीं। इसीलिए कांग्रेस (Congress) अब अपनी बी-टीम को आगे करके प्रदेश के माहौल को खराब करना चाहती है।

यह बात भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा (BJP state president Vishnudutt Sharma) ने रविवार को राजधानी भोपाल (Bhopal) में पिछड़ा वर्ग (OBC) नाम पर कांग्रेस द्वारा वातावरण खराब करने के प्रयासों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस ने विद्वेष और अशांति फैलाने के लिए अपनी जिस टीम को चुना है, वह इसकी विशेषज्ञ है और कई प्रदेशों में माहौल खराब कर चुकी है। इस टीम को सिर्फ भाजपा शासित राज्यों में ही दलितों, पिछड़ों की समस्याएं दिखाई देती हैं, अन्य राज्यों से उसे कोई मतलब नहीं होता।

यह भी पढ़ें : भोपाल : सैकड़ो OBC पदाधिकारी गिरफ्तार, सियासत शुरू

उन्होंने कहा कि राजस्थान और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में दलितों के प्रति हो रहे जघन्य अपराध कांग्रेस (Congress) या उसकी बी टीम के किसी नेता को नजर नहीं आते। मध्यप्रदेश के सागर में कमलनाथ सरकार के कार्यकाल में जब दलित धनप्रसाद को जिंदा जला दिया गया था, तब भी भीम आर्मी या उसका कोई नेता उसकी सुध लेने नहीं आया। इसी टीम के नेता अब खुद को पिछड़ा वर्ग का सबसे बड़ा हमदर्द बता रहे हैं।

राजनीति के अलावा OBC के लिए क्या किया, बताए कांग्रेस

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने (BJP state president Vishnudutt Sharma) कहा कि कांग्रेस के पास पिछड़ा वर्ग के लोगों को बताने के लिए कोई उपलब्धि नहीं है, इसलिए वह अब नकारात्मक राजनीति करके इस वर्ग के भाइयों को भड़काना चाहती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने पिछड़ा वर्ग के लोगों के लिए 27 प्रतिशत आरक्षण की घोषणा कर दी, लेकिन जब मामला अदालत में पहुंचा, तो कांग्रेस की सरकार ने अपने एडव्होकेट जनरल को पक्ष रखने ही नहीं भेजा। यही नहीं, प्रदेश में पिछड़ा वर्ग की जनसंख्या ही 27 प्रतिशत बताकर आरक्षण की बात को मजाक बना दिया।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की आपराधिक लापरवाही के कारण ही यह मामला आज तक उलझा हुआ है, जिसे प्रदेश की शिवराज सरकार पिछड़ा वर्ग के (OBC)  हक में सुलझाने का प्रयास कर रही है। वहीं, जब पंचायत चुनावों में ओबीसी को आरक्षण का लाभ Benefit of reservation To OBC) रहा था, तो कांग्रेस ने एक बार फिर पिछड़ा वर्ग के हितों पर कुठाराघात करते हुए अदालत में याचिका लगाकर इस मामले को भी उलझा दिया। लेकिन प्रदेश की शिवराज सरकार (Shivraj government) ने चुनाव संबंधी अध्यादेश वापस लेकर यह साबित कर दिया है कि वह हर वर्ग को लोगों को साथ लेकर आगे बढ़ने पर विश्वास करती है।

यह भी पढ़ें : नीता अंबानी लगाती है करोड़ों की लिपस्टिक, मुकेश अंबानी भी लिपस्टिक दिलाने में कई बार सोचते हैं

शर्मा ने कहा कि पिछड़ा वर्ग के हमारे भाई-बंधु यह बात भली भांति जानते हैं कि वास्तव में उनकी भलाई भारतीय जनता पार्टी ही कर सकती है, जिसकी प्रदेश सरकार ने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार प्रदेश के सौहार्द्रपूर्ण वातावरण को बिगाड़ने की अनुमति किसी को भी नहीं देगी और कांग्रेस तथा उसकी बी टीम प्रदेश में विद्वेष और अशांति फैलाने के जो प्रयास कर रहे हैं, उन्हें किसी कीमत पर सफल नहीं होने दिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button