IAS ऑफिसर बनने के लिए के लिये क्या करे जानिये हिंदी में।

published by sipha- आईएएस एक सरकारी नौकरी है क्या आप जानते हैं कि आईएएस कैसे बनता है। कड़ी मेहनत के बाद पद पाने के लिए। आईएएस बनाने के लिए कौन सा कोर्स करें? ऐसे ही कुछ सवालों के जवाब आज हम आपको देने जा रहे हैं। सबसे पहले आपको बता दें कि आईएएस बनने के लिए एक परीक्षा पास करनी होती है जिसे यूपीएससी सिविल सर्विसेज अग्रजम कहा जाता है।

यह पहल तीन चरणों में की जा सकती है। पहला चरण यूपीएससी प्री अगजम था। इस परीक्षा के अंकों को अंतिम परिणाम में नहीं जोड़ा जा सकता है, लेकिन मुख्य परीक्षा प्री परीक्षा पास करने के बाद दी जा सकती है।

प्री परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवार यूपीएससी की मुख्य परीक्षा में भी शामिल हो सकते हैं। मेन्स परीक्षा अंतिम परिणाम में चिह्नित है। मुख्य परीक्षा क्लियर करने के बाद उम्मीदवारों को साक्षात्कार के लिए जाना होता है। अंतिम परिणाम साक्षात्कार और मुख्य परीक्षा के अंकों के आधार पर तैयार किया जा रहा है।

IAS ऑफिसर बनने के लिए के लिये क्या करे जानिये हिंदी में।
photo by google

अब बात करते हैं उस कोर्स की जो आईएएस बनने के लिए करना पड़ता है, तो इसका उत्तर है नहीं। IAS बनने के लिए अलग से किसी कोर्स की आवश्यकता नहीं है। IAS बनने के लिए आपके पास किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए, तभी आप परीक्षा देने के योग्य माने जाएंगे। परीक्षा की तैया

IAS ऑफिसर बनने के लिए के लिये क्या करे जानिये हिंदी में।
photo by google

री के लिए आप राजनीति विज्ञान, भूगोल, इतिहास, अर्थशास्त्र, सामान्य ज्ञान आदि पर किताबें पढ़ सकते हैं।

IAS का पूर्ण रूप ‘भारतीय प्रशासनिक सेवा’ है। इसे हिन्दी में ‘भारतीय प्रशासनिक सेवा’ कहते हैं। IAS बनने के विषय की बात करें तो जो लोग IAS परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, उनके मन में यह बात बनी रहती है कि उनके स्नातक में एक ऐसा विषय होना चाहिए जो उन्हें IAS परीक्षा की तैयारी में मदद करे।

 इसे भी पढ़े- आखिर चायवाले ने क्यों और कैसे पीटा डिप्टी कलेक्टर अरविंद भाबोर को , जाने पूरी सच्चाई

यदि आप IAS परीक्षा की तैयारी करना चाहते हैं, तो आपको राजनीति विज्ञान, भूगोल, इतिहास, अर्थशास्त्र, दर्शन और लोक प्रशासन जैसे विषयों में स्नातक करना चाहिए क्योंकि इन विषयों का अध्ययन करने से आपकी IAS की तैयारी में बहुत मदद मिलती है।

 

सतना न्यूज डेस्क

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button