भारत में 5G Era की हो रही शुरुआत, जानें कितनी बदलेगी हमारी Life

 5G यानी पांचवीं पीढ़ी के नेटवर्क की आज नीलामी हो रही है. नीलामी प्रक्रिया पूरी होने के तुरंत बाद भारत में 5G सेवाओं को व्यावसायिक रूप से लॉन्च किया जा रहा है।  पिछले महीने केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा 5G नीलामी को मंजूरी दिए जाने के बाद, अदाणी समूह तीन दूरसंचार ऑपरेटरों के साथ अगली पीढ़ी की नेटवर्क नीलामी में भी भाग ले रहा है। हालांकि, Adani Group ने इस नीलामी में भाग लेने के लिए सबसे कम रकम डिपॉजिट की है। वहीं, Reliance Jio ने सबसे ज्यादा डिपॉजिट रकम जमा की है।

आज से करीब 8 साल पहले जब 4जी सेवा शुरू की गई थी, तब लोगों की जीवनशैली में काफी बदलाव आया है। 4जी के आने के बाद यूजर्स को सुपरफास्ट कनेक्शन और हाई स्पीड इंटरनेट मिलने लगा।

कई IoT उत्पाद हमारी जीवन शैली का हिस्सा बन गए हैं। मोबाइल इंटरनेट हमारी दिनचर्या का हिस्सा बन गया है। इसका मुख्य कारण यह है कि 4G 3G की तुलना में 10 गुना तेज इंटरनेट स्पीड प्रदान करता है, जिससे संचार आसान हो गया है।

 5G सेवाएं शुरू होने के बाद कुछ ऐसे ही बदलाव देखने को मिलेंगे। 5G  नेटवर्क में 4G की तुलना में 10 गुना तेज इंटरनेट स्पीड है। यूजर्स को 300mbps से लेकर 3gbps तक की इंटरनेट स्पीड मिलेगी।

भारत में 5G Era की हो रही शुरुआत, जानें कितनी बदलेगी हमारी Life
Photo By Google

35 सेकेंड में डाउनलोड होगी फाइल

अगर हम 5G में उपलब्ध इंटरनेट स्पीड को सरल शब्दों में समझें, तो 2G इंटरनेट सेवा पर फ़ाइल डाउनलोड करने में 2.8 दिन लगते हैं, तो Bipartisan Policy Center की रिपोर्ट के अनुसार, 5G सेवा शुरू होने में 35 दिन लगेंगे। सेकंड में डाउनलोड किया जा सकता है।

मौजूदा 4जी सेवाओं पर इस फाइल को 40 मिनट के भीतर डाउनलोड किया जा सकता है। इससे आप खुद अंदाजा लगा सकते हैं कि 5जी सर्विस (भारत में 5जी सर्विस) लॉन्च करने के बाद हमें कितनी तेज इंटरनेट स्पीड मिलेगी।

2जी : 2.8 दिन
3जी: 2 घंटे
4जी: 40 मिनट
5जी : 35 सेकेंड

भारत में 5G Era की हो रही शुरुआत, जानें कितनी बदलेगी हमारी Life
Photo By Google

4जी सेवाओं के आने के बाद से वीडियो ब्राउजिंग में सबसे बड़ा बदलाव देखने को मिला है। 4G के विकास के बाद से, उपयोगकर्ता वीडियो सामग्री के साथ-साथ वीडियो देखने वालों पर अधिक समय व्यतीत कर रहे हैं। 5G सेवाओं के लॉन्च होने के बाद यूजर्स को 4जी के मुकाबले कई गुना तेज इंटरनेट स्पीड मिलेगी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक 4जी पर औसत इंटरनेट स्पीड 14 एमबीपीएस है, जबकि 4जी एलटीई पर 30mpbs है। वहीं, 5G इंटरनेट की औसत स्पीड को बढ़ाकर 100mbps कर देगा। यानी यूजर्स बिना बफरिंग के 8K क्वालिटी के वीडियो देख पाएंगे।

कौन से स्पेक्ट्रम बैंड की हो रही नीलामी?

DoT (प्रौद्योगिकी विभाग) आज 5G के लिए 72GHz एयरवेव के लिए 10 स्पेक्ट्रम बैंड की नीलामी कर रहा है। इसमें निम्न, मध्य और उच्च आवृत्ति बैंड शामिल हैं। 5G नीलामी में 600 MHz, 700 MHz, 800 MHz, 900 MHz, 1800 MHz, 2100 MHz, 2300 MHz लो फ़्रीक्वेंसी बैंड, 3300 MHz (मिड फ़्रीक्वेंसी बैंड) और 26GHz (हाई फ़्रीक्वेंसी बैंड) उपलब्ध हैं।

भारत में 5G Era की हो रही शुरुआत, जानें कितनी बदलेगी हमारी Life
Photo By Google

 इसे भी पढ़े-यहां पाइए सबसे सस्ता Gold, 10 ग्राम की कीमत 30 हजार से भी कम

रिलायंस जियो ने सबसे ज्यादा 140 अरब रुपये जुटाए, जबकि भारती एयरटेल (एयरटेल) ने 55 अरब रुपये, वोडाफोन-आइडिया ने 22 अरब रुपये और अदाणी समूह (अडानी डेटा नेटवर्क) ने 1 अरब रुपये जुटाए। टेलीकॉम कंपनियों से जमा राशि के आधार पर इस नीलामी में Jio सबसे बड़ा खिलाड़ी है।

Article by sipha

 

सतना न्यूज डेस्क

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button