1 दिसंबर से आम आदमी पर महंगाई की दोहरी मार, पढ़िए क्या क्या हो जाएगा महंगा

1 दिसंबर Double whammy of inflation on common

नई दिल्ली। दिसंबर से महंगाई का और असर देखने को मिलेगा। दरअसल 1 दिसंबर से कई सामान और सेवाओं के दाम बढ़ने वाले हैं, जिसका सीधा असर आपकी जेब पर पड़ने वाला है। अगर आपको इसकी जानकारी नहीं है और 1 दिसंबर के बाद आपका सामना कब होगा, तो परेशानी हो सकती है।

14 साल बाद बढ़ने जा रहा है मैच रेट
अब रोजाना माचिस की डिब्बी के दाम बढ़ने वाले हैं। इस साल 1 दिसंबर से माचिस की डिब्बियों की कीमत मौजूदा 1 पैसा से बढ़कर 2 पैसा हो जाएगी। यह निर्माण लागत में वृद्धि और कच्चे माल की बढ़ती कीमतों के कारण है। हालांकि, यह 36 के बजाय 50 माचिस की डिब्बियों में उपलब्ध होगा जो ग्राहकों को रु.

SBI क्रेडिट कार्ड से EMI ट्रांजेक्शन करना होगा महंगा
अगर आप SBI क्रेडिट कार्ड यूजर हैं तो आपके लिए बुरी खबर है। दरअसल, अब आपको एसबीआई के क्रेडिट कार्ड से किए गए ईएमआई ट्रांजेक्शन के लिए ज्यादा भुगतान करना होगा।

SBI कार्ड्स एंड पेमेंट सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड (SBICPSL) ने घोषणा की है कि ईएमआई लेनदेन के लिए, कार्डधारक को अब 99 रुपये की प्रोसेसिंग फीस देनी होगी और उस पर टैक्स देना होगा। ये नए नियम 1 दिसंबर से प्रभावी होंगे। पीएनबी ग्राहकों को पुश करें

1 दिसंबर से आम आदमी पर महंगाई की दोहरी मार

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) अपने खाताधारकों को बड़ा धक्का देने के लिए तैयार है। बैंक 1 दिसंबर, 2021 से बचत खातों में जमा पर ब्याज दर कम करने जा रहा है। बैंक की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक बचत खातों पर ब्याज दर 2.90 फीसदी सालाना से घटाकर 2.80 फीसदी सालाना करने का फैसला किया गया है.

प्रधानमंत्री को मध्यप्रदेश से मिलेगा अनुपम उपहार, प्रदेश के 75 स्थानों से किया गया इकट्ठा

बैंक के इस फैसले का असर नए और पुराने दोनों ग्राहकों के साथ-साथ एनआरआई ग्राहकों पर भी पड़ेगा। इससे पहले 1 सितंबर 2021 को पीएनबी ने बचत खातों पर ब्याज दर घटाकर 2.90 फीसदी कर दी थी। रसोई गैस की कीमतों में भी बदलाव
1 दिसंबर को रसोई गैस की कीमत में भी बदलाव हो सकता है। आशंका जताई जा रही है कि रसोई गैस के दाम फिर बढ़ सकते हैं।

सतना न्यूज डेस्क

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button